Harley-Davidson का बड़ा फैसला, भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली दो बाइकें की बंद

|

Updated: 26 Jan 2021, 08:28 PM IST

  • हार्ले-डेविडसन स्ट्रीट 750, स्ट्रीट रॉड को भारत में बंद कर दिया गया है।
  • हार्ले-डेविडसन स्ट्रीट 750 भारत में कंपनी की सबसे अधिक बिकने वाली बाइक थी।
  • हरियाणा के बावल में अपने निर्माण संयंत्र में परिचालन बंद करने की घोषणा।

नई दिल्ली। दुनिया की मशहूर बाइक निर्माता हार्ले-डेविडसन ने भारत में अपनी स्ट्रीट 750 और स्ट्रीट रॉड बाइक को बंद कर दिया है। स्ट्रीट 750 भारत में कंपनी के लिए सबसे अधिक बिकने वाली मोटरसाइकिलों में से एक थी। वास्तव में इस बाइक का कंपनी की बिक्री में 80 प्रतिशत से अधिक का योगदान था।

Big News: पुराने वाहनों को लेकर केंद्र सरकार का बड़ा कदम, मोटी फीस-पंजीकरण खत्म और स्क्रैप में डालेगी

ब्रांड की फिर से खुद को मजबूत करने की रणनीति के हिस्से के रूप में हार्ले-डेविडसन इंडिया बावल में अपनी विनिर्माण सुविधा (मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी) बंद कर देगी। इसके साथ ही गुरुग्राम में सेल्स ऑफिस को आकार में काफी कम कर दिया जाएगा।

निर्माण केंद्र को बंद करने के फैसले का मतलब है कि स्ट्रीट 750 और स्ट्रीट रॉड जैसे भारत-निर्मित मॉडल को अब जाना होगा। ये दोनों मॉडल कंपनी के प्रोडक्ट लाइन-अप में दो सबसे सस्ती मोटरसाइकिलें थीं।

हार्ले स्ट्रीट 750 रेंज में 749 सीसी का लिक्विड-कूल्ड, वी-ट्विन रेवोल्यूशन एक्स इंजन था जिसने 3,750 आरपीएम पर 60 एनएम के पीक टॉर्क को पैदा करता था। इस बाइक के इंजन को 6-स्पीड गियरबॉक्स के साथ जोड़ा गया है। बाइक में सस्पेंशन के लिए आगे की ओर टेलिस्कोपिक फोर्क्स और पीछे की तरफ ट्विन शॉकर्स का इस्तेमाल किया गया है, जबकि ब्रेकिंग परफॉर्मेंस डुअल-चैनल ABS के साथ डिस्क-ब्रेक से आती है।

बाइकर्स के लिए Good News: 2021 में जबर्दस्त पर्फामेंस वाली 12 बाइकों को लॉन्च करेगी कंपनी

बता दें कि अब, हीरो मोटोकॉर्प ने हार्ले-डेविडसन के साथ साझेदारी की है और पूरे भारत में 10 हार्ले-डेविडसन डीलरों को अपने वितरण नेटवर्क में शामिल करने का फैसला किया है। नए अनुबंध 1 जनवरी 2021 से लागू होने की उम्मीद है, हालांकि हीरो मोटोकॉर्प ने अभी तक आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा नहीं की है।

वहीं, हार्ले-डेविडसन डीलर्स एसोसिएशन, जो भारत में अमरीकी मोटरसाइकिल ब्रांड के सभी 33 डीलरों का प्रतिनिधित्व करती है, कंपनी द्वारा भारत में स्वतंत्र परिचालन से हटने का फैसला करने के बाद भी हार्ले-डेविडसन से उचित मुआवजा मांग रही है। नई व्यवसाय योजना के तहत हीरो मोटोकॉर्प भारत में हार्ले-डेविडसन मोटरसाइकिलों के वितरण और बिक्री की देखभाल करेगा।