Latest News in Hindi

नगर निगम : टपक रही छत, रिकॉर्ड पर 'पानी'

By dinesh swami

Sep, 12 2018 01:01:06 (IST)

नगर निगम शहर में भले ही करोड़ों रुपए के विकास और निर्माण कार्य करवाए, लेकिन अपने परिसर में रिकॉर्ड रूम की सुध तक नहीं ले रहा है।

बीकानेर. नगर निगम शहर में भले ही करोड़ों रुपए के विकास और निर्माण कार्य करवाए, लेकिन अपने परिसर में रिकॉर्ड रूम की सुध तक नहीं ले रहा है। इस कक्ष की दीवारों में दरार आ गई और छत से पानी टपकता रहता है। छत से टपक रहे पानी के कारण निगम का महत्वपूर्ण रिकॉर्ड भीग कर नष्ट हो रहा है, लेकिन निगम अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

 

रिकार्ड रूम में रखे महत्वपूर्ण दस्तावेजों और फाइलों को निगम कर्मचारी चाह कर भी खराब होने से बचा नहीं पा रहे हैं। इस बारे में निर्माण शाखा को बताने के बाद भी शाखा अधिकारी इस कार्य से मुंह फेरे हुए हैं। हर रोज कर्मचारी बस्तों में रखे रिकॉर्ड को इधर-उधर कर भीगने से बचाने का प्रयास करते हैं, इसके बावजूद कई बस्तों में रखा रिकॉर्ड भीग गया है और खराब होने की स्थिति में है।

 

चल रही नोटशीट
निगम में आए दिन कई काम नोटशीट के बिना हो जाते हैं, लेकिन रिकॉर्ड रूम के काम के लिए बताया जा रहा है कि कई माह से नोटशीट चल रही है। निगम आयुक्त भी निर्माण शाखा के अधिकारियों को इस कार्य को जल्द करवाने के निर्देश दे चुके है।, लेकिन कोई काम नहीं हुआ।

 

 

महत्वपूर्ण हैं दस्तावेज
विवाह पंजीयन कक्ष के पास रिकॉर्ड रूम में निगम से संबंधित महत्वपूर्ण दस्तावेज-फाइले हैं। विवाह पंजीयन से संबंधित पत्रावलियां, कर्मचारियों से संबंधित दस्तावेज आदि भी इसी कक्ष में हैं, जो छत से टपक रहे पानी में भीग कर खराब हो रहे हैं।


जल्द होगा काम
नगर निगम के दस्तावेज और फाइलों के भीगने की जल्द जानकारी ली जाएगी। दीवार में आई दरार की मरम्मत और छत पर प्लास्टर का कार्य जल्द करवाया जाएगा। इसके लिए अभियंताओं को निर्देश दिए जा रहे हैं।
ललित ओझा, अधीक्षण अभियंता, नगर निगम बीकानेर

 

 

निगम प्रशासन उदासीन

करोड़ों रुपयों के निर्माण और विकास कार्य करने की बात कहने वाले निगम प्रशासन का अपने महत्वपूर्ण रिकॉर्ड की ओर ध्यान नहीं देना दुर्भाग्यपूर्ण है। टपकती छत, दीवार में दरार से हादसा भी हो सकता है। कर्मचारियों के कई बार कहने के बाद भी सामान्य कार्य का नहीं होना निगम प्रशासन और महापौर की उदासीनता है। रिकॉर्ड को सुरक्षित रखने के पुख्ता प्रबंध होने चाहिए।
जावेद पडि़हार, नेता प्रतिपक्ष, नगर निगम बीकानेर