पीएम मोदी का दिखा ऐसा असर कि तालाब में उतर गए विधायक

|

Published: 14 Sep 2019, 06:29 PM IST

  • विधायक पति ने तालाब में उतर कर की सफाई
  • ट्रैक्टर ट्रॉलियों से तालाब की गंदगी को उठाकर फेंका
  • 35 बीघे में फैला यह तालाब समंदर सोख घास से है अटा पड़ा

 

बिजनौर. पीएम मोदी ने 15 अगस्त को लाल किले से जल बचाने के लिए देश वासियों से अपील की थी। इससे प्रभावित होकर बिजनौर भाजपा सदर विधायक के पति ने जल संरक्षण की दिशा में काम करते हुए अपने लोगों के साथ तालाब के सफाई अभियान में खुद जुट गए है। वहीं, विधायक पति के इस कदम से स्थानीय लोग काफी खुश दिखाई दिए।

यह भी पढ़ें: Today Gold Price: सोने की कीमत में एक हफ्ते में आई बड़ी गिरावट, चौंकाने वाली है वजह

बिजनौर जिले की बिजनौर विधानसभा के गांव वाजीदपुर में मौजूद सैकड़ों साल पुराना तालाब है, लेकिन यह तालाब समंदर सोख नाम की घास ने अंटा पड़ा था। पूरे गांव का पानी इसी तालाब में जाता है, लेकिन तालाब की सफाई नहीं होने के कारण गांव वालों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा था । लिहाजा, गांव वालों ने बिजनौर विधानसभा के भाजपा के विधायक सूचि चौधरी के पति ऐश्वर्य चौधरी उर्फ मौसम से तालाब साफ कराने की बात कही तो विधायक पति ने गांव वालों को भरोसा दिलाया कि जल्द ही तालाब की सफाई करा दी जाएगी । इसी बाद उन्होंने यह कदम उठाया।

यह भी पढ़ें: पुलिस कस्टडी से भागा मनचला, इसके बाद लोगों ने पकड़कर जो किया, वीडियो में देखें पूरी नजारा

भाजपा विधायक पति ने पीएम मोदी की जल संरक्षण योजना को धरातल पर उतारने का बीड़ा उठाया तो जिले के अफसरों में हड़कम्प मच गया। विधायक पति भाजपा नेता ने शनिवार को अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ गांव में तंबू गाड़ दिया और ऐश्वर्य चौधरी अपनी टीम के सैकड़ों सदस्यों को लेकर खुद भी तालाब में उतर गए। 35 बीघे के इस बड़े तालाब को साफ कर लेने की ठान ली है। इतना ही नहीं भाजपा नेता ने 10 ट्रैक्टर ट्रॉली भी लगाई है. ताकि तालाब से निकलने वाली घास को अन्य जगह ले जाकर डाला जा रहा है । तालाब से पानी निकालने के लिये टिल्लू पम्पो का भी प्रयोग किया जाएगा । भाजपा नेता के तालाब में सफाई करने की सूचना जब जिले के अफसरों को लगी तो जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया । भाजपा नेता ऐश्वर्य चौधरी शायद देश के ऐसे पहले नेता होंगे, जिन्होंने पीएम मोदी की जल संरक्षण योजना को धरातल पर उतार रहे हैं ।