इतनी भीषण आग: राख का ढेर बन गए रिटायर एयरफोर्स अफसर

|

Published: 24 May 2017, 03:02 PM IST

आधी रात को हुआ हादसा, शार्ट सर्किट से मकान में लगी आग, शेष लोगों को दरवाजे तोड़कर बाहर निकाले।
भोपाल। गांधी नगर में मंगलवार-बुधवार की मध्यरात एक मकान में लगी भीषण आग से एयरफोर्स रिटायर्ड अफसर की मौत हो गई। हादसा इतना भीषण था कि आग से पूर्व एयर फोर्स अफसर का शरीर राख के ढेर में तब्दील हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने तत्परता से घर में रहे रहे तीन लोगों की जान बचाई। 
हादसा गांधीनगर थाना क्षेत्र के एयरफोर्स अफसरों की अल्फा फार्म कॉलोनी में रिटायर्ड एयरफोर्स अफसर केसी पुन्नुस के घर की है। घर में रात करीब 1 से 2 बजे की बीच आग लग गई। जब घर में धुंआ भरा तो पुन्नुस के पुत्र जोसपाल की नींद खुली, लेकिन घर में इतना धुंआ भरा हुआ था कि उन्हें कुछ नजर नहीं आया। वे घर से बाहर निकलने का प्रयास करने लगे लेकिन घर का दरवाजा बंद होने से वे बाहर नहीं जा सके। इसी बीच उनकी पत्नी मलीना ने पुलिस को फोन लगा दिया। फोन के कुछ ही देर में पुलिस यहां पहुंच गई और हादसे की भयावहता को देखते हुए घर के दरवाजे तोड़कर आग से घिरे लोगों को बाहर निकाला। 
एक-एक कर निकाला बाहरघर के मुख्य द्वार के पास ही कमरे में पुन्नुस सो रहे थे। जबकि बगल के कमरे में बेटा और बहू और अंतिम कमरे में उनकी पत्नी एलीकुट्टी सोई हुई थीं। पुलिस के पहुंचने के बाद परिवार को लोगों को खोजने का काम शुरू किया गया। इसमें शेष तीन लोग तो मिल गए लेकिन पुन्नुस नहीं मिल पाए। आग बुझने के बाद पता चला कि पुन्नुस की हादसे में मौत हो गई है। इसके साथ ही उनके घरेलू कुत्ते की भी मौत हो गई। 
एयरफोर्स में सुप्रिंटेंडेंट थे पुन्नुसहादसे में मौत का शिकार केसी पुन्नुस एयरफोर्स में सुप्रिंटेंडेंट टेलिफोन के पद से रिटायर हुए थे। उनकी पत्नी भी एयरफोर्स से ही रिटायर हुई थीं। हादसे में उनका शरीर पूरी तरह जल गया। वे अपना बचाव भी नहीं कर पाए। पुलिस ने उनके जले हुए शव को बाहर निकाला तो पहचान हो शव की पहचान हो पाना भी मुश्किल थी।