1 जुलाई से शुरू हो चुका है नए केस बढ़ने का सिलसिला, इसलिए रहना होगा सावधान

|

Published: 05 Jul 2021, 11:45 AM IST

अब नए संक्रमित 50 के आसपास मिल रहे हैं.....

भोपाल। महाराष्ट्र की तरह मध्यप्रदेश में फिर कोरोना के नए केस बढ़ने लगे हैं। हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, हालात 10 दिन पहले मिलने वाले नए केस के बन गए हैं। नए केस बढ़ने का सिलसिला 1 जुलाई से शुरू हुआ है, जबकि 30 जून तक नए केस में कमी आ रही थी। तब 33 केस मिले थे। अब नए संक्रमित 50 के आसपास मिल रहे हैं। उधर, एक्टिव केस (इलाजरत मरीज) 400 के आसपास आ गए हैं। भोपाल, इंदौर के अलावा दमोह, राजगढ़, बैतूल और रतलाम जिले में 20-20 से ज्यादा एक्टिव केस हैं। प्रदेश में 10% मरीज गंभीर हैं।

हालांकि मौत के आंकड़ों में कमी आई है। पिछले माह तक हर दिन 50 से अधिक संक्रमितों की मौतें होती थी, लेकिन इस माह यह संख्या 20 पर टिक गई है। बैतूल जिले में दूसरी लहर शुरू होने से अब तक नए केसों में अन्य जिलों की तुलना में कोई खास सुधार नहीं हुआ है।

तीसरी लहर में इम्युनिटी, रिकवर हुए लोगों में कोरोना के खिलाफ बनी प्रतिरक्षा क्षमता व टीकाकरण की अहम भूमिका होगी। आने वाले समय में टीकाकरण से गंभीर होने वाले मरीजों की संख्या कम हो सकती है। इस आधार पर तीन तरह की संभावनाएं व्यक्त की गई हैं।

नए वैरिएंट का डर

गणितीय मॉडल (सूत्र मॉडल) पर काम कर रहे आइआइटी कानपुर के वैज्ञानिक मनिंद्र अग्रवाल के अनुसार तीसरी लहर में मामले तो कम रहेंगे लेकिन नया वैरिएंट के आने के बाद संक्रमण तेजी से फैल भी सकता है।