Corona Update : लॉकडाउन को लेकर घबराएं नहीं, आपकी जरूरत की हर चीज की व्यवस्था कर चुकी है सरकार

|

Published: 25 Mar 2020, 03:05 PM IST

प्रदेश सरकार ने जनता को जरूरी व्यवस्थाएं मुहैय्या कराने के लिए कमर कस ली है। शासन-प्रशासन की ओर से व्यवस्था की जा रही है।

भोपाल/ देश में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन किया गया है। देशहित के फैसले को जहां एक तरफ जनता ने भी कबूल किया है तो वहीं प्रदेश सरकार ने भी जनता के लिए जरूरी व्यवस्थाएं मुहैय्या कराने के लिए कमर कस ली है। शासन-प्रशासन की ओर से व्यवस्था की जा रही है। जहां एक तरफ अफवाह फैलाने वालों के लिए सख्त निर्देश जारी हुए हैं, वहीं लोगों को इस हालात में न घबराने की भी सलाह दी जा रही है। प्रशासन की ओर से अपील की जा रही है कि, कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में अपने घरों में रहकर सरकार का सहयोग करें। लोगों को ये भी बताया जा रहा है कि, 21 दिनों तक देश बंद जरूर है, लेकिन ज़रूरी चीजों की सप्लाई बंद नहीं की जाएगी।

 

पढ़ें ये खास खबर- अब हंता वायरस का कहर, 26 लोग हुए संक्रमित 1 की मौत


लोगों से की जा रही ये अपील

लोगों से कहा जा रहा है कि, इस बात की गंभीरता को समझे कि, अगर आप अकेले घर से बाहर निकलते तब भी आपका परिवार बिना घरों से निकले सिर्फ आपके कारण बीमार, बहुत बीमार हो सकता है। इसके लिए जरूरी है कि, आप खासतौर पर उस स्थान पर न जाएं जहां लोग हों। घर से बाहर निकलने से बचें, इन दिनों अगर आप घर से बाहर नहीं निकलते तो आपको पता भी नहीं चलेगा और आप देश हित और समाज सेवा का काम कर रहे होंगे। किसी बेहद जरूरी आवश्यक्ता के समय ही घर से बाहर निकलें। सिर्फ ज़रूरी सेवा में लगे लोगों को ही बाहर निकलने की छूट रहेगी, उनके लिए पास बनाए जा रहे हैं।

 

Coronavirus Update : पुलिस को मिला फ्री हैंड, अब सड़क पर दिखे तो खैर नहीं, होगी कड़ी कार्रवाई


सीएम शिवराज भी कर चुके हैं अपील

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन पर आम लोगों से अपील कर चुके हैं कि, लोग भयभीत न हों। इस दौरान पूरे प्रदेश में ज़रूरी सामान की सप्लाई की व्यवस्था जारी रहेगी। सभी ज़िलों के कलेक्टर्स को इस संबंध में निर्देश दिए जा चुके हैं। प्रदेश सरकार अगले 21 दिन तक ये व्यवस्था सुचारू रखेगी कि, सभी को ज़रूरत का सामान मिलता रहे। कोई चिंता न करे, रोजमर्रा की सभी चीजें आपको उपलब्ध कराई जाएंगी। साथ ही, बुधवार रात 8 बजे एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिहं चौहान प्रदेश की जनता को संबोधित करेंगे। इस दौरान वो कोरोना वायरस से बचने और नेशनल लॉकडाउन के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों पर चर्चा करेंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- Coronavirus Prevention : मिनटों में अपने घर पर बनाएं मास्क, बाजार में नहीं मिल रहा तो न लें टेंशन


सुचारू रहेगी होम डिलिवरी की सुविधा

21 दिनों के इस देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान सामान की होम डिलेवरी सुविधा सुचारू रहेगी। भोपाल में हुई पुलिस और जिला प्रशासन की संयुक्त बैठक में फैसला लिया गया है कि, रोजमर्रा की चीजों की आपूर्ति, कालाबाजारी रोकने के भी निर्देश दिए गए हैं। बैठक में मौजूद डीआईजी शहर इरशाद वली, कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने अफसरों को लॉकडाउन के दौरान कानून-व्यवस्था और अन्य व्यवस्था बनाए रखने की सख्त हिदायत दी है। स्थानीय थानों में प्राइवेट कर्मचारियों और व्यापारियों के पास बनाए जा रहे हैं, ताकि लॉकडाउन के दौरान इन लोगों को किसी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े।

 

पढ़ें ये खास खबर- फैलाई जा रही हैं कोरोना वायरस से बचाव की ये सावधानियां, हैं एकदम झूठ, आप भी न करें यकीन


श्रम विभाग का दैनिक वेतन भोगियों के लिए बड़ा आदेश

श्रम विभाग ने दैनिक मज़दूरी करने वाले मजदूरों को ध्यान रखते हुए बड़ा आदेश दिया है। आदेश में कहा गया है कि, 21 दिनों के लॉक डाउन के दौरान किसी मजदूर का वेतन नहीं काटा जाएगा। न ही किसी कर्मचारी की छंटती होगी। सरकार के हर निर्देश का पालन आवश्यक रूप से सभी संस्थानों को करना होगा। जो भी संस्थान इस आदेश का पालन नहीं करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना से संबंधित जानकारी पाने के लिए इन हेल्पलाइन नंबर पर लगाए फोन, सभी सिनेमा और स्कूल-कॉलेज बंद


21 दिन का सुनते ही दहशत में आए लोग

बता दें कि, मंगलवार की रात 8 बजे देश को संबोधित करने आए प्रधानमंत्री मोदी ने देश में तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण पर ब्रेक लगाने के लिए जैसे ही लोगों से कहा कि, आगामी 21 दिनों तक देशव्यापी लॉकडाउन किया गया है। साथ ही, ये भी कहा कि, आज रात 12 बजते ही आपके घरों के बाहर एक लक्षमण रेखा खिच जाएगी, जिसे आपको पार नहीं करना। मोदी की अपील देश हित में थी, लेकिन जैसे ही लोगों ने 21 दिन बंद की बात सुनी तो अधिकतर लोग घबरा गए और अपने घरों में सामान भरने की होड़ लगा दी। किसी को ये चिंता नहीं थी कि, अगर वो किसी कोरोना के संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आ गए तो क्या होगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना वायरस से बचना है तो करें आदाब और नमस्कार से स्वागत, जानिए बेहद जरूरी टिप्स


जनता से अपील

प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह के अलावा भोपाल कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने शहर के लोगों से लॉक डाउन के दौरान सहयोग करने की अपील की है। उन्होंने कहा लोग घबराने की जरूरत नहीं, कोरोना वायरस को लेकर अफवाहें फैलाने वालों से बचें। संयम बरतें और ज़रूरत पड़ने पर प्रशासन से संपर्क करें। वहीं, डीआईजी इरशाद वली ने भी कहा जो भी कोई अफवाह फैलाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.साथ ही सोशल डिस्टेंस रखने की अपील भी की।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना वायरस का अलर्ट : ये लक्षण दिखाई दें तो हो जाएं सतर्क, सरकार ने जारी की खास एडवाइजरी


ये कर्मचारी रहेंगे मुस्तैद

1- पुलिस/अर्धसैनिक बल वर्दी में
2- जरूरी सेवाओं में लगे सरकारी कर्मचारी
3- स्वास्थ्य कर्मचारी
4- अग्निशमन कर्मचारी
5- जेल में तैनात कर्मचारी
6- उचित दर दुकान
7- विद्युत सेवा
8- जल विभाग
9- नगर निगम की सेवाओं के कर्मचारी
10- विधानसभा तथा संसद में कार्य करने वाले कर्मचारी
11- वेतन तथा लेखा विभाग
12- प्रेस तथा मीडिया कर्मचारी
13- बैंकों में कार्यरत खजांची तथा एटीएम से संबंधित कर्मचारी
14- इंटरनेट/ डाक तार व टेलीफोन विभाग से संबंधित कर्मचारी
15- ई-कामर्स तथा अन्य जरूरी सेवाओं जैसे खाद्य पदार्थ, दवाइयां वे मेडिकल इक्युपमेंट
16- खान-पान की वस्तुएं व किराना, फल/सब्जी व दूध/बेकरी, मांस-मछली इत्यादि
17- दूध डेयरी
18- किराना और केंद्रीय भंडार में काम करने वाले कर्मचारी
19- घर पर डिलीवरी करने के लिए रेस्टॉरेंट या टेक-अवे रेस्टॉरेंट से
20- केमिस्ट और फार्मेंसी की दुकानें
21- पेट्रोल पंप, एलपीजी एजेंसी उनके गोडाउन या उनमें भरण यातायात में संलग्न कर्मचारी
22- जानवरों और पशुओं के लिए चारा
23- एयर लाइंस का स्टाफ पॉयलेट इत्यादि
24- नगर निगम रजिस्ट्रार कार्यालय से जारी अधिकृत पास धारक