पपीता का बीज है आपकी सेहत के लिए फायदेमंद, जानिए इसके फायदे

|
आपको ये जानकर हैरानी होगी कि हम पपीते के जिन बीजों को कूड़ा समझकर फेंक देते हैं वो भी हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं।

भोपाल। ये तो हम सब जानते हैं कि पपीता हमारे त्वचा से लेकर हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि हम पपीते के जिन बीजों को कूड़ा समझकर फेंक देते हैं वो भी हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। पपीते के बीजे हमारी सेहत के लिए इतने फायदेमंद होते हैं कि इनसे कई तरह की बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है। आईये डॉ. विनीता मेवाड़ा से जानते हैं पपीते के बीजों के फायदे।
1. पीपते के बीजों में एंटी-बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं जो कि हमारे डायजेशन में मदद करते हैं। इसके साथ ही यह फूड पॉइजनिंग जैसी बीमारियों से लड़ने में भी हमारी मदद करे हैं। अगर हम रोज़ाना एक चम्मच पपीता का बीजा खाते हैं तो हमारे पेट से जुड़ी कई समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।
यह भी पढ़ें : ये TIPS गर्मी में रखेंगे आपको हेल्दी
2. पेट के साथ-साथ पपीता के बीजे हमारे लीवर के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होते हैं। इससे लीवर की कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है। पपीता के बीजों का सेवन करने के लिए उन्हें मिक्सी में पीस लें और उसका रस निकाल लें। रस निकालने के बाद इसमें नींबू के रस की 10 बूंदें मिला लें और पी लें। एक महीने तक रोज़ाना इस जूस को पीने से हमारे लीवर से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।
3. एंटी-बैक्टीरियल गुण मौजूद होने के साथ-साथ पीपते के बीजों में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी मौजूद होते हैं। अगर रोज़ाना एक चम्मच पपीता का बीज खाया जाए तो इससे सूजन और जलन कम हो जाती है।
यह भी पढ़ें : वजन कम करना है तो इन गलतियों से रहें दूर
4. पपीते के बीजों के गुण यहीं नहीं खत्म होते हैं। इन सब गुणों के साथ-साथ इनमें एंटी-ऑक्सीडेंट गुण भी होता है जो कि हमें विभिन्न तरह के कैंसर जैसे कि ब्रेस्ट कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और फेफड़ों के कैंसर से लड़ने में मदद करते हैं। कैंसर से लड़ने के लिए पपीता का बीजा खाने के लिए इन बीजों को सुखा लें और पीस लें और रोज़ाना इसका सेवन करें।
5. बड़ी बीमारियों से लड़ने के अलावा पपीते के बीज बुखार से लड़ने में भी मदद करते हैं। इनमें एंटी-बैक्टीरियल तत्व मौजूद होते हैं जो बैक्टीरिया को बार-बार फैलने वाले जीवाणुओं से हमें बचाते हैं।