कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाने में उदासीन दिख रहे लोग, इसलिये सरकार उठा रही ये खास कदम

|

Published: 22 Aug 2021, 05:37 PM IST

सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद कई लोग कोरोना वैक्सीनके दूसरे डोज को लेकर लोग गंभीर नजर नहीं आ रहे हैं। इन्हें ये डोज लगाने के लिए अब महा अभियान का सहारा लिया जाएगा।

भोपाल. मध्य प्रदेश में जहां फिलहाल कोरोना की रफ्तार काबू में है, वहीं सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद कई लोग कोरोना वैक्सीनके दूसरे डोज को लेकर लोग गंभीर नजर नहीं आ रहे हैं। इन्हें ये डोज लगाने के लिए अब महा अभियान का सहारा लिया जाएगा। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग के अनुसार, वैक्सीनशन अभियान को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, कलेक्टर, कमिश्नर और क्राईसिस मैनेजमेंट कमेटी से इस संबंध में चर्चा कर ली गई है। 25 और 26 अगस्त को दो दिवसीय वैक्सीनेशन कैंपेन चलाया जाएगा।


आपको बता दें कि, प्रदेशभर में अबतक 3 करोड़ 96 लाख 81 हजार लोगों को वैक्सीनेशन करा लिया है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री के अनुसार, वैक्सीन के दूसरे डोज को लेकर लोग उदासीन हैं। तय सीमा में डोज नहीं ले रहे हैं। इसके लिए अब वैक्सीनेश महा अभियान की जरूरत है। 12 बच्चों के लिए जाइंडिस कैडिला वैक्सीन की मंजूरी पर मंत्री ने कहा कि केंद्र के निर्देशों का पालन किया जाएगा। हमारी पूरी तैयारी है, जो कार्यक्रम निर्धारित किया जाएगा, उसे पूरा भी किया जाए। स्कूल खोलने के सवाल पर सारंग ने कहा कि बड़े छात्रों के स्कूल उनके परिजन की मर्जी से खोले गए हैं. स्कूल हो या हायर एजुकेशन टीचर्स का वैक्सीनशन किया जाए। उसके बाद ही स्कूल खोलने पर किसी तरह का विर्णय लिया जा सकेगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- बकाया बिल वसूलने बिजली कंपनी ने बनाया भगवान चित्रगुप्त का चित्र, भड़क उठा कायस्थ समाज, की ये मांग


गड्ढों को जल्द भरा जाएगा- सारंग

राजधानी की सड़कों पर बने गड्ढों पर जवाब देते हुए मंत्री सारंग ने कहा कि, मुख्यमंत्री खुद इन सब पर संज्ञान ले रहे हैं। अधिकारियों को निर्देश दिये जा चुके हैं। जल्द से जल्द गड्ढों को भरने का कार्य किया जाएगा। मंत्री सारंग के अनुसार, शहर की सड़कों के हालात देकथे हुए सीएम अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी जनता के बीच काम करती है। इसलिये आप मुस्तैदी से काम करें। योजनाओ का लाभ जनता तक पहुंचाने के लिए कार्यक्रम किए जा रहे हैं। प्रभरियों की नियुक्ति की गई थी। कार्यों की समीक्षा चल रही है।

 

नदी में आई बाढ़ में बह गई कार - देखें Video