पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ समेत कांग्रेस के कई विधायकों पर मंडराया कोरोना वायरस का खतरा, जानिए वजह

|

Published: 25 Mar 2020, 07:14 PM IST

प्रेस कांफ्रेंस में एक वरिष्ठ पत्रकार के.के सक्सेना भी मौजूद थे। हालही में सामने आई रिपोर्ट में के.के सक्सेना कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

भोपाल/ देशभर में तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस अब मध्य प्रदेश में भी काफी तेजी से पैर पसार रहा है। जहां देश में अब तक कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 598 पर जा पहुंची है और इससे संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या 12 हो गई है। वहीं, मध्य प्रदेश में भी कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा 15 हो चुका है। हालाही में जानकारी सामने आई है कि, एमपी में भी कोरोना से संक्रमित एक महिला की मौत हो गई है। एक तरफ जहां प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, वहीं तत्कालीन कमलनाथ सरकार पर भी इस महामारी का खतरा मंडरा रहा है।

 

पढ़ें ये खास खबर- Corona Update : लॉकडाउन को लेकर घबराएं नहीं, आपकी जरूरत की हर चीज की व्यवस्था कर चुकी है सरकार


प्रेस कांफ्रेंस में शामिल थे के.के सक्सेना

दरअसल, बीते दिनों 20 मार्च को कमलनाथ ने पद से इस्तीफा दिया है। इससे पहले उन्होंने एक प्रेस कांफ्रेंस की जिसमें उन्होंने उनकी सरकार की 15 महीने की उपबलब्धियों को गिनाया। इस प्रेस कांफ्रेस में कांग्रेस के कई दिग्गज नेताओं, पूर्व मंत्रियों समेत कांग्रेस के विधायक मौजूद थे। प्रेस कांफ्रेंस में मध्य प्रदेश समेत देशभर के कई राजनीतिक पत्रकार भी मौजूद थे। प्रेस कांफ्रेंस में एक वरिष्ठ पत्रकार के.के सक्सेना भी मौजूद थे। हालही में सामने आई रिपोर्ट में के.के सक्सेना कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। रिपोर्ट सामने आने के बाद प्रेस कांफ्रेंस में शामिल सभी पत्रकारों समेत कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में खलबली मच गई हैं। क्योंकि, वरिष्ठ पत्रकार होने के कारण उन्होंने कमलनाथ समेत कांग्रेस के कई विधायकों और नेताओं से आगामी रणनीति को लेकर बातचीत की थी। साथ ही, उन्होंने कई पत्रकारों से भी बातचीत की थी।

 

पढ़ें ये खास खबर- Coronavirus Update : पुलिस को मिला फ्री हैंड, अब सड़क पर दिखे तो खैर नहीं, होगी कड़ी कार्रवाई


लंदन से लौटी थी के.के की बेटी

आपको बता दें कि, पत्रकार के.के सक्सेना को लगा कोरोना का संक्रमण उनकी बेटी के जरिये हुआ है। बीते 23 मार्च को हुई उनकी बेटी की जांच में सामने आया था कि, वो कोरोना से संक्रमित हैं। इसके बाद स्वास्थ विभाग ने उनके परिवार के करीब 10 सदस्यों की जांच कराई, जिनमें से 9 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई थी, संक्रमित बेटी के पिता के.के सक्सेना को ही कोरोना पॉजिटिव आया है। बता दें कि, के.के की बेटी पिछले दिनों लंदन से लौटी हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- अब हंता वायरस का कहर, 26 लोग हुए संक्रमित 1 की मौत


कांग्रेस नेताओं में असमंजस

जानकारी सामने आई है कि, के.के सक्सेना की कोरोना से ग्रस्त होने की पुष्टी होने के बाद अहतियाद के तौर पर पूर्व सीएम कमलनाथ ने खुद को आइसोलेट कराया है। साथ ही, कांग्रेस के कई नेताओं में असमंजस बढ़ गया है। अब संभावना जताई जा रही है कि, जितने भी लोग उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में जितने भी लोग शामिल हुए थे, उन सभी की जांच की जा सकती है। साथ ही, जरूरत पढ़ने पर उन्हें क्वारंटाइन भी किया जा सकता है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि, विगत दिनों कोरोना संक्रमण पॉजिटिव आए के.के. सक्सेना और उनकी बेटी के संपर्क में आने वाले हर व्यक्ति को 14 दिन तक होम आइसोलेशन में रहने की जरूरत है। साथ ही उन्होंने ये भी सलाह दी कि, आयोजन में शामिल जिस किसी व्यक्ति को 6-7 दिनों में सर्दी, खांसी, बुखार आए, तो वो इसे नजरअंदाज किये बिना तुरंत कंट्रोल रूम से संपर्क करे।

 

पढ़ें ये खास खबर- Coronavirus Prevention : मिनटों में अपने घर पर बनाएं मास्क, बाजार में नहीं मिल रहा तो न लें टेंशन


पिता-बेटी का चल रहा उपचार

कोरोना से पीड़ित के.के सक्सेना के परिवार के बारे में बताते हुए डॉ. डहरिया ने कहा कि, लड़की के स्वास्थ्य मानकों के अनुसार मिलने जुलने वाले 10 व्यक्तियों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। उनमें 9 के टेस्ट रिपोर्ट तो निगेटिव आई है, जिनमें उनकी माता, भाई, घर मे काम करने वाले लोग आदि लोग शामिल है। सिर्फ उनके पिता की टेस्ट रिपोर्ट ही पॉजिटिव आई है, जिन्हे तत्काल एम्स हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया है। हालांकि, डॉ. डहरिया ने शहर के लोगों से अपील की है कि किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है। लड़की और उसके पिता नार्मल है। दोनों का इलाज भोपाल एम्स में चल रहा है।