तमंचे पर डिस्को...महिला डांसरों के साथ डांस करते हुए देशी कट्टे से होती रही फायरिंग

|

Published: 21 Feb 2021, 07:57 PM IST

-मेवात के गांव गढ़ीझीलपट्टी का मामला, दो युवकों की हुई पहचान, शादी में हुआ था डांस कार्यक्रम

भरतपुर. पहाड़ी उपखंड के गांव गढ़ीझीलपट्टी में शनिवार देर रात एक शादी समारोह में घंटों तक डीजे पर महिला डांसरों के साथ युवकों ने डांस करते हुए देशी कट्टे से फायरिंग की। वहां मौजूद सैकड़ों लोग तमाशबीन बनकर देखते रहे। मामला वीडियो के माध्यम से वायरल हुआ तो पुलिस भी छानबीन में जुट हुई। अब दो युवकों की पहचान की गई है। हालांकि यह पहला मामला नहीं है कि जब मेवात में किसी शादी में हर्ष फायरिंग की गई है। इससे पहले भी हर्ष फायरिंग जान तक जा चुकी है। जानकारी के अनुसार कैथवाड़ा थाने के गांव गढ़ीझीलपट्टी निवासी छोटल्ली मेव के पुत्र असलूप की रविवार को शादी होनी थी। शादी की खुशी में शनिवार देर रात को गांव में डांस पार्टी का कार्यक्रम रखा गया था। इसमें हरियाणा की महिला डांसरों को डांस करने के लिए बुलाया गया था। देर रात तक चली इस डांस पार्टी में डीजे की धुनों पर महिलाओं के साथ युवा भी जमकर थिरके तो कुछ युवाओं ने महिला डांसरो पर नोट लुटाते हुए अवैध हथियारों से फायरिंग कर जश्न मनाया। गनीमत यह रही कि डांस पार्टी में हुई फायरिंग में कोई हताहत नहीं हुआ वरना कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था। वहीं गांव गढ़ीझीलपट्टी में देर रात तक तक डांस पार्टी का मजमा चलता रहा। पुलिस व प्रशासन की बिना अनुमति के आयोजित हुई पार्टी की कैथवाड़ा थाना पुलिस को भनक तक नहीं लगी।

बड़ा सवाल...जिन पर सुरक्षा का जिम्मा, वो भी सोते रहे

इस प्रकरण में सबसे बड़ा सवाल कैथवाड़ा थाना पुलिस पर खड़ा हो रहा है। क्योंकि पुलिस को इस पूरे मामले की जानकारी सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद हुई। आनन-फानन में पुलिस टीम अवैध हथियारों से फायरिंग करने वाले युवकों को पकडऩे के लिए गांव पहुंच गई, लेकिन इससे पूर्व फायरिंग करने वाले युवक भूमिगत हो चुके थे। वहीं बारात भी दुल्हन लेने के लिए हरियाणा रवाना हो चुकी थी। पुलिस बारात के लौटने का इंतजार कर रही है।

कहां बन रहे अवैध हथियार, पुलिस ही करती है मदद

आए दिन पुलिस अपने कार्रवाई विवरण में कभी किसी को अवैध हथियार सहित गिरफ्तार दिखाती है तो कभी किसी प्रकरण में, लेकिन एक सवाल यह भी है कि आखिर यह अवैध हथियार जिले में ही बन रहे हैं या कहीं अन्य राज्यों से आ रहे हैं। इसको लेकर पुलिस कभी भी जांच तक नहीं करती है। हालांकि वर्ष 2020 में ही कामां, जुरहरा, पहाड़ी पुलिस की ओर से दिल्ली सीआईयू टीम की अवैध हथियारों की तस्करी करने के मामले में कार्रवाई में सहयोग नहीं करने का मामला भी आईजी तक पहुंचा था। इसमें एक एसएचओ की भूमिका भी संदिग्ध मानी गई थी, लेकिन रसूख के दबाव व लेनदेन की पुरानी परंपरा के कारण मामला यूं ही खानापूर्ति में निपटा दिया गया।

शादियों में आम होती जा रही खुशी में अवैध हथियारों से फायरिंग

1. 30 जनवरी 2020 को सेवर इलाके के घसोला गांव में हर्ष फायरिंग में दूल्हे के भाई को गोली लग गई। भरतपुर जिले की नदबई तहसील के किशनपुरा गांव से बारात सेवर थाना क्षेत्र के घसोला गांव में आई थी, जहां पर देर रात्रि का कार्यक्रम खत्म होने के बाद सुबह की रस्म निभाई जा रही थी और दूल्हे के टीके करने का कार्यक्रम चल रहा था तो उसी समय एक हर्ष फायरिंग में दूल्हे के भाई को गोली लग गई थी।

2. 25 जून 2019 को चिकसाना थाने के गांव गांवड़ी में रुदावल थाना क्षेत्र के बोसोली से बारात आई हुई थी। शादी कार्यक्रम में भोजन चल रहा था और साथ में डीजे पर कुछ लोग नाच कर रहे थे। इस बीच हुई फायरिंग में बारात में आया एक युवक अचानक जमीन पर गिर पड़ा। युवक के सिर में गोली लगी थी, लोग उसे तुरंत शहर के निजी अस्पताल में ले गए, जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया था।

3. सात फरवरी 2018 को नदबई थाना इलाके के गांव लुहासा में एक घर में लग्न टीका के समारोह के दौरान वधू पक्ष से आए फौजी की बंदूक से कारतूस लोड करते समय ट्रिगर दब गया। इससे सामने खड़े दूल्हे के भतीजे की गोली लग गई। इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया था।

4. 27 जुलाई को शहर के मथुरा गेट थाने के पास खेल-खेल में एक नाबालिग ने 12 वर्षीय बालक पर फायरिंग कर दी थी। इससे बालक की मौत हो गई थी। अब यह तक तय नहीं हो पाया है कि आखिर किससे और कब खरीदा गया था।

5. 16 अगस्त 2020 को डीग के खोह थाने के गांव गदरवास में शादी समारोह के दौरान हर्ष फायरिंग में डीजे बजा रहे किशोर की मौत हो गई। अवैध हथियार से फायरिंग में मौत के बाद भी मामला दबा दिया गया। आखिर में राजीनामा पर खुद पुलिस की मौजूदगी में सुलहनामा भी हो गया।

-परिवार में कार्यक्रम होने के कारण छुट्टी पर आ गए थे। मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस टीम को मौके पर भेजा गया है। डांस पार्टी में फायरिंग करने वाले दो युवकों की पहचान कर ली गई है। फायरिंग करने वाले दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा तथा साथ ही बिना अनुमति के डांस पार्टी करने वाले आयोजकों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

रामनरेश मीणा
एसएचओ थाना कैथवाड़ा