कोरोना दिखा रहा दम, रिकवरी रेट मध्यम

|

Updated: 18 Apr 2021, 04:11 PM IST

कोरोना की दूसरी में शनिवार को 91 नए पॉजिटिव केस सामने आए। खास बात यह है कि केसों की बढ़ती संख्या के मुकाबले रिकवरी कम है।

भरतपुर. कोरोना की दूसरी में शनिवार को 91 नए पॉजिटिव केस सामने आए। खास बात यह है कि केसों की बढ़ती संख्या के मुकाबले रिकवरी कम है। शनिवार को रिकवर हुए लोगों की संख्या 41 रही। ऐसे में दम दिखा रहे कोरोना के बीच चिकित्सा व्यवस्था भी हांफती नजर आ रही है। जिले में अब एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 459 तक पहुंच गई है। इससे पहले शुक्रवार को 95 पॉजिटिव मिले थे। अभी यदि हम नहीं संभले तो यह आंकड़ा भयाभय की ओर जा सकता है।
पिछले तीन-चार दिन से कोरोना केसों में खासी वृद्धि हो रही है। इसको लेकर प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग भी चिंतित नजर आ रहा है। संक्रमण की तेजी रोकने के लिए प्रशासन ने तमाम पाबंदियां शुरू कर दी हैं। खास तौर से बाजारों में लोगों की आवाजाही रोकने को को वीकेंड कफ्र्यू जैसी कवायद की जा रही है, लेकिन कोरोना के बढ़ते केसों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। पॉजिटिव केसों में इजाफा होने से चिकित्सा विभाग की चिंताएं बढ़ रही हैं। कोरोना की दूसरी लहर को थामना विभाग के बड़ी चुनौती बना हुआ है।

आरबीएम में बढ़ाए 110 बेड

जिले में बेकाबू होते कोरोना की लहर थामने के लिए चिकित्सा विभाग बंदोबस्तों में जुट गया है। शनिवार को आरबीएम अस्पताल में कोविड-19 को देखते हुए 110 बेड बढ़ाए गए हैं। ऐसे में बेड़ों की संख्या बढ़कर अब 252 हो गई है। वर्तमान में आरबीएम में 50 कोरोना पॉजिटिव हैं। साथ ही 20 लोग सस्पेक्टेड हैं। यह सभी चिकित्सकों की निगरानी में हैं। इसके अलावा ऑक्सीजन लाइन के अलावा अस्पताल प्रशासन के पास 342 ऑक्सीजन सिलेंडरों की व्यवस्था है।

10 चिकित्सकों की लगाई ड्यूटी

आरबीएम अस्पताल प्रशासन ने कोविड-19 संबंधित कार्य संपादन के लिए 10 चिकित्सकों की नियुक्ति की है। इनमें से 9 ने शनिवार को कार्य शुरू कर दिया। फिलहाल चिकित्सकों के ठहरने की व्यवस्था सरसों अनुसंधान केन्द्र में की गई है। फिर भी परिस्थिति के अनुसार इसमें बदलाव किया जा सकता है।

भरतपुर पहुंची वैक्सीन

जिले में कोरोना के खात्मे के लिए शनिवार को भरतपुर वैक्सीन पहुंच गई। आरसीएचओ डॉ. अमर सिंह सैनी ने बताया कि शनिवार को कोविशील्ड वैक्सीन की 30 हजार तथा कोवैक्सीन की 3800 डोज पहुंच गईं। सैनी ने बताया कि उपलब्धता के आधार पर सभी सेंटरों पर वैक्सीन पहुंचा दी गई हैं। वैक्सीनेशन का कार्य निर्बाध रूप से चलेगा।

इनका कहना है

आरबीएम में बेडों की संख्या में इजाफा कर दिया है। साथ ही चिकित्सकों की टीम भी तैनात कर दी गई है। मरीजों को देखते हुए पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। कोविड-19 को देखते हुए सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया गया है।

- डॉ. जिज्ञासा साहनी, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी आरबीएम भरतपुर