गर्मी के सीजन में मुंहासे, बालों के लिए अपनाएं ये खास टिप्स

|

Updated: 20 Jun 2020, 01:19 AM IST

ऐसे कई आयुर्वेदिक नुस्खे हैं जो आसानी से घर में तैयार किए जा सकते हैं। ये बिना किसी दुष्प्रभाव के त्वचा को चमकदार बनाने के साथ मुंहासों की समस्या से राहत देते हैं। जानते हैं इनके बारे में-

गर्मी के सीजन में मुंहासे, बालों के लिए अपनाएं ये खास टिप्स

गर्मियों में बढ़ता तापमान और मुंहासे चेहरे की चमक को फीका कर देते हैं। ऐसे कई आयुर्वेदिक नुस्खे हैं जो आसानी से घर में तैयार किए जा सकते हैं। ये बिना किसी दुष्प्रभाव के त्वचा को चमकदार बनाने के साथ मुंहासों की समस्या से राहत देते हैं। जानते हैं इनके बारे में-

चंदन का फेसपैक : चंदन पाउडर में गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगाएं। सूख जाने के बाद इसे धो लें। अगर चेहरे पर मुहांसे हों तो दूध में 1 चम्मच चंदन पाउडर और एक चम्मच चावल का आटे मिलाकर पेस्ट बनाएं और इसे चेहरे के लगाएं। चंदन की तासीर ठंडी होने के कारण यह त्वचा को राहत पहुंचाता है। साथ ही ये पेस्ट मृत कोशिकाओं को हटाता है।

एलोवेरा-नींबू -
दो चम्मच एलोवेरा के गूदे में एक चम्मच गुलाब जल और एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इसे 15 मिनट के लिए चेहरे पर लगाएं और धो लें। त्वचा की चमक बढ़ेगी।

बेसन व हल्दी का फेस पैक : थोड़ा सा लैवेंडर ऑयल लें इसमें दो चम्मच बेसन, एक चुटकी हल्दी, एक चम्मच मक्खन या ताजी क्रीम को अच्छे से मिला लें। अब इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। यह पैक त्वचा की डेड स्किन को निकालकर निखार लाता है।

मुल्तानी मिट्टी : अगर आपकी त्वचा ऑयली है तो मुल्तानी मिट्टी फेसपैक बेहतर विकल्प है। आधा घंटे के लिए मुल्तानी मिट्टी को पानी में भिगो दें। इसमें गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगाएं। सूख जाने पर इसे धो लें।
शहद-नींबू का पैक : शहद त्वचा की चमक बढ़ाता है। दो चम्मच शहद में एक चम्मच नींबू के रस को मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इसके चेहरे पर लगाएं सूखने पर पानी से धो लें।

बालों को यूं दे मजबूती -
आजकल बालों का झडऩा आम बात हो गई है। कुछ घरेलू से इसे मजबूत बना सकते हैं।
आलू का जूस: आलू में मौजूद विटामिन ए व बी बालों को हैल्दी बनाता है। इसके लिए आलू के रस को निकाल कर बालों की जड़ों में एक-डेढ़ घंटे लगा रहने दें। फिर पानी से सिर धो लें।
नीम का पानी: यह रूसी, खुजली व सिर पर होने वाले संक्रमण को भी दूर करता है। नीम की कुछ पत्तियों को पानी में उबालें व ठंडा होने पर छानने के बाद और पानी मिलाकर सिर धोलें।

चने से वजन व शुगर कंट्रोल -
भीगे हुए काले चने में विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। रोजाना ५० ग्राम भीगे चने खाने के कई फायदे हैं। इनमें काफी मात्रा में प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, आयरन और विटामिंस होते हैं। ये खून साफ करने के साथ वजन भी नियंत्रित रखते हैं। यदि किसी को शुगर की प्रॉब्लम है, तो रोज सुबह 25 ग्राम भीगे हुए काले चने खा सकते हैं। भीगा चना चबाने से पेट सम्बंधी रोग जैसे कब्ज और दर्द जैसी समस्या से छुटकारा मिलता है।