शैम्पू जितनी ही जरूरी है बालों की कंडीशनिंग

|

Published: 22 Mar 2018, 12:10 AM IST

किसी भी उम्र में बालों के झडऩे और टूटने की समस्या आम है। ऐसे में बालों की सही से केयर करना बेहद जरूरी है

किसी भी उम्र में बालों के झडऩे और टूटने की समस्या आम है। ऐसे में बालों की सही से केयर करना बेहद जरूरी है जिसके लिए बालों को शैम्पू करना, ऑयल मसाज मददगार हैं। लेकिन इन्हीं के साथ बालों को कंडीशनिंग करना भी इनकी उम्र को बढ़ाता है साथ ही बालों से जुड़ी कई दिक्कतों को दूर करता है। जानते हैं बालों की कंडीशनिंग से जुड़े तथ्यों के बारे में-

टेक्सचर के अनुसार हो कंडीशनर
अक्सर लोग बालों को शैम्पू करने के बाद २-३ तीन मिनट के लिए इनपर कंडीशनर लगाकर छोड़ देते हैं और फिर धो लेते हैं। लेकिन जरूरी नहीं कि कोई भी कंडीशनर आप प्रयोग में ले लें। इस्तेमाल से पहले यह जानना जरूरी है कि आपके बालों की प्रकृति के अनुसार किस तरह का कंडीशनर आपको इस्तेमाल करना चाहिए। तेलीय, रूखे, सिल्की व अन्य हर तरह के बालों के लिए मार्केट में उसी अनुसार कंडीशनर भी उपलब्ध होते हैं जिन्हें प्रयोग में ले सकते हैं।

ऑयल मसाज के बाद कंडीशनिंग
बालों का कालापन और चमक बढ़ाने के लिए केवल शैम्पू और कंडीशनिंग ही काफी नहीं। इसके लिए नियमित रूप से की गई तेल मालिश भी बेहद जरूरी है। इससे बालों की जड़ों को पोषण मिलता है जिससे इनकी उम्र व घनत्व बढ़ता है। कोशिश करें कि बालों को धोने से कम से १-२ घंटे पहले सरसों या नारियल तेल से अच्छे से बालों की जड़ में मसाज करें। फिर शैम्पू के बाद कंडीशनिंग करें। कंडीशनर का प्रयोग माह में २ बार किया जा सकता है।

लगाएं कंडीशनर
बालों को मुलायम और चमकदार बनाने के लिए कंडीशनर का प्रयोग होता है। इसलिए शैम्पू करने के बाद ५ मिनट जड़ों के बाद से नीचे तक के हिस्से में बालों पर कंडीशनर लगा लें। उसके बाद धो लें। वर्ना जड़ें भी मुलायम हो सकती हैं और ऐसे में कंघी करने पर बाल अचानक टूट सकते हैं।