Latest News in Hindi

शाहपुरा में विधानसभा चुनाव से पहले डमी मतदान

By Satya Prakash

Sep, 12 2018 11:08:28 (IST)

निर्वाचन आयोग की ओर से ईवीएम की विश्वसनीयता कायम करने और मतदाताओं की संतुष्टि के लिए ईवीएम के साथ जोड़ी गई वीवीपैट मशीन व मतदान प्रकिया की जानकारी देने के लिए शाहपुरा कस्बे के मतदान केन्द्र 173 पर बूथ बनाकर डमी मतदान कराया गया।

 

मतदाताओं को जागरुक करने के लिए ईवीएम-वीवीपैट से डमी मतदान किया

 

शाहपुरा। विधानसभा चुनाव अभी दूर है, लेकिन मतदान की तैयारियां अभी से शुरू हो गई है। निर्वाचन आयोग की ओर से ईवीएम की विश्वसनीयता कायम करने और मतदाताओं की संतुष्टि के लिए ईवीएम के साथ जोड़ी गई वीवीपैट मशीन व मतदान प्रकिया की जानकारी देने के लिए शाहपुरा कस्बे के मतदान केन्द्र 173 पर बूथ बनाकर बुधवार को डमी मतदान कराया गया। इस दौरान पोलिंग पार्टी ने प्रात: 7 से शाम को 5 बजे तक मतदान केन्द्र पर मतदाताओं से डमी मतदान करवाकर प्रकिया की जानकारी दी। इसके अलावा कस्बे के श्री कल्याण सिंह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में भी कर्मचारियों की टीम ने शिविर में आए मतदाताओं को ईवीएम-वीवीपैट मशीन से मतदान कराकर जानकारी दी। इस दौरान दोनों ही जगह क्षेत्र के मतदाताओं ने उत्साह से मतदान कर वीवीपैट मशीन और मतदान की प्रकिया समझी। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी व एसडीएम शाहपुरा रवि विजय ने बताया कि मतदाताओं की जागरुकता के लिए कस्बे में उपखण्ड कार्यालय के पास मतदान केन्द्र संख्या 173 महात्मा ज्योतिबा फूले उच्च माध्यमिक विद्यालय के कमरा संख्या 4 में डमी मतदान कराया गया। यहां पोलिंग पार्टी में शामिल पीठासीन अधिकारी जुगलकिशोर शर्मा, मतदान अधिकारी ग्यारसीलाल यादव, रोहिताश मान, हरिनारायण चौधरी की टीम ने प्रात: ७ से शाम को ५ बजे तक मतदाताओं से मत डलवाकर प्रशिक्षण दिया। एसडीएम रवि विजय व तहसीलदार सूर्यकान्त शर्मा ने निरीक्षण कर मतदाताओं को जागरुक भी किया। मतदान केन्द्र 173 पर 400 लोगों ने और श्रीकल्याणसिंह स्कूल में412 ने मतदान कर जानकारी ली।

 


क्षेत्र में स्वीप मोबाइल वैन से दी जा रही जानकारी

 

शाहपुरा विधानसभा क्षेत्र में स्वीप मोबाइल वैन से भी विभिन्न ग्राम पंचायतों में मतदाताओं को ईवीएम-वीवीपैट से मतदान करने का प्रशिक्षण देकर जागरुक किया जा रहा है। सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी व तहसीलदार सूर्यकान्त शर्मा ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र की अधिकांश ग्राम पंचायतों में जानकारी दी जा चुकी है। अब कुछ पंचायतें और नगरपालिका शाहपुरा क्षेत्र वंचित है, वहां भी जानकारी दी जाएगी। वैन प्रतिदिन तीन से पांच ग्राम पंचायतों में जा रही है।

 

क्या है ईवीएम-वीवीपैट

उल्लेखनीय है कि पिछले लोकसभा चुनाव के बाद से राजनीतिक दल ईवीएम के जरिए हो रहे चुनाव पर सवाल उठा रहे है। इसको लेकर ईवीएम से डाले गए मत को सत्यापित करने के लिए इस बार निर्वाचन आयोग ने ईवीएम के साथ वीवीपैट मशीन जोड़ी है। यह मतपत्र रहित आधुनिक मतदान प्रणाली का एक नया हिस्सा है। यह मशीन सुनिश्चित करेगी कि ईवीएम के जरिए मतदाता का मत किसे गया है। मशीन के ईवीएम से अलग जानकारी देने पर मतदाता अपने वोट को कैंसिल करवा सकता है। मतदान की ऑडिट के लिए इसे ईवीएम मशीन से जोड़ा जाता है। इसकी मतदाताओं को जानकारी दी जा रही है।