बाड़मेर मेडिकल कॉलेज: कोरोना जांच के लिए लैब का निर्माण, 80 फीसदी हो चुका काम

|

Published: 13 Apr 2020, 08:59 PM IST

-पीडब्ल्यूडी कर रही है निर्माण कार्य
-माइक्रोबायोलॉजी विभाग में स्थापित होगी लैब
-संचालन के लिए स्टाफ की हो चुकी है ट्रेनिंग

बाड़मेर. कोरोना के नमूनों की जांच बाड़मेर में किए जाने की तैयारियां तेजी से चल रही है। मेडिकल कॉलेज में इसके लिए लैब निर्माण का काम किया जा रहा है। हालांकि यहां लैब वर्तमान में स्थापित है। लेकिन कोरोना को लेकर कुछ अलग से व्यवस्थाओं को लेकर यहां पर पीडब्ल्यूडी के माध्यम से सिविल वर्क करवाया जा रहा है।
बाड़मेर में जिस रफ्तार से कोरोना नमूनों की जांच के लिए लैब तैयार की जा रही है, इससे उम्मीद है कुछ दिनों में यह तैयार भी हो जाएगी। कॉलेज प्रशासन व पीडब्ल्यूडी के अधिकारी लैब को जल्द पूरा करने में जी जान से जुटा है। जिला कलक्टर ने भी लैब को जल्द तैयार करने में काफी रूचि ली है। जिससे लैब शुरू होने पर बाड़मेर के नमूनोंं के नमूनों की यहीं पर जांच हो सके।
4-5 दिन में काम हो जाएगा पूरा
मेडिकल कॉलेज में बन रही लैब का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा। जानकारी के अनुसार करीब 70-80 फीसदी काम कर लिया गया है। कुछ दिनों में बाकी का काम पूरा कर लैब तैयार कर दी जाएगी।
फिर उपकरणों लगाए जाएंगे
राज्य सरकार की ओर से पिछले दिनों नई मेडिकल कॉलेजों में मंजूर की गई कोरोना जांच लैब के लिए फिर उपकरणों की जरूरत होगी। उम्मीद जताई जा रही है कि लैब पूरी तरह से तैयार होते ही उपकरण भी सरकार शीघ्र उपलब्ध करवा देगी।
स्टाफ को मिल चुकी ट्रेनिंग
मेडिकल कॉलेज में लैब संचालन व नमूनों की जांच को लेकर स्टाफ की ट्रेनिंग हो चुकी है। कॉलेज के दो चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ ने लैब के लिए प्रशिक्षण लिया है। सभी को एसएन मेडिकल कॉलेज जोधपुर की माइक्रोबायोलॉजी लैब में प्रशिक्षित किया गया है। जहां पर कोरोना के नमूनों की जांच होती है।
दो-तीन दिन में पूरा हो जाएगा काम
लैब का काम काफी हो चुका है। सिविल वर्क दो-तीन दिन में ही पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद शुरू करने की तैयारी होगी। उम्मीद है कि मशीनरी भी जल्दी मिल जाएगी। लैब पूरी तरह स्थापित होने पर नमूनों की जांच बाड़मेर में हो जाएगी। इससे रिपोर्ट भी तुरंत उपलब्ध होगी।
डॉ. एनडी सोनी, प्रधानाचार्य राजकीय मेडिकल कॉलेज बाड़मेर