बागपत: आइसोलेशन से भाग गया कोरोना आशंकित मरीज, पुलिस ने गांव जाने से पहले ही पकड़ा

|

Published: 27 Mar 2020, 07:50 PM IST

Highlights
-पकडा गया आइसोलेशन वार्ड से भागा युवक
-दोस्त के सम्पर्क में आने से था भर्ती
-युवक के दोस्त का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था
-पीड़ित के साथ उसके परिवार के सदस्य भी आइसोलेशन वार्ड में भर्ती

बागपत: शुक्रवार को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से भागे युवक को पुलिस व स्वास्थ्य विभाग ने पकड लिया है। जिसके बाद युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और युवक के खिलाफ पुलिस ने मामला भी दर्ज कर दिया है। युवक बागपत में मिले कोरोना पीडित युवक का दोस्त है। जिसको लेकर विभाग में हडकंप मच गया था।

Lockdown के बीच खाना लेकर पहुंचे अधिकारी, गरीबों के खिल उठे चेहरे

आइसोलेशन में था भर्ती

बागपत में कोरोना पीडित मिलने के बाद प्रशासन अलर्ट है। बागपत कोतवाली क्षेत्र के एक गांव का युवक 19 मार्च को दुबई लौटा जो पोजेटिव पाया गया है। जुकाम, खांसी व बुखार से पीडित होने पर वह खुद ही 24 मार्च को जिला अस्पताल में भर्ती हुआ था। डॉक्टरों ने कोरोना का संदिग्ध मानते हुए उसको आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर उसके रक्त का नमूना लेकर मेरठ लैब के लिए भेज दिया था। गुरुवार को उसकी लैब रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई थी। डॉक्टरों ने पीड़ित युवक को तो इलाज के लिए राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल दिल्ली के लिए रेफर कर दिया था। वहीं पीड़ित युवक की माता, पिता, भाई, दोस्त समेत 12 लोगों को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर लिया था तथा उनके रक्त के नमूना लेकर जांच के लिए लैब भेज दिए थे। वार्ड में भर्ती पीड़ित युवक का दोस्त शुक्रवार को मौका पाकर फरार हो गया। इसका पता चलने पर स्वास्थ्य व पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। पुलिस की टीमें उसकी घेराबंदी में जुट गई थी।

Coronavirus: इस शहर में कोरोना के मरीजों को रोबोट परोस रहा खाना, दवाई देने का भी कर रहा काम

ऐसे आया पकड़ में
सीओ ओमपाल सिंह के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों ने दिल्ली-यमुनोत्री हाईवे पर फैजुल्लापुर गांव को जाने वाले रास्ते पर ईख के खेत में युवक की घेराबंदी की। युवक के मिलने पर पुलिस ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को अवगत कराया। एंबुलेंस वहां पर पहुंची। कर्मचारियों ने पुलिस की रैपिड एक्शन टीम की मदद से युवक को पकड़ा। कोतवाली प्रभारी अरविंद कुमार का कहना है कि पकड़े गए युवक को सरूरपुर गांव की सीएचसी के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। आरोपित युवक के खिलाफ (धारा 269 व 270 आईपीसी) मुकदमा दर्ज किया गया है।