चीन के दबाव को दस दिन भी नहीं झेल पाया पाकिस्तान, TikTok से हटाया बैन

|

Updated: 20 Oct 2020, 12:40 AM IST

Highlights

  • मात्र दस दिनों के अंदर पाकिस्तान ने अपना फैसला पलट दिया।
  • चीन की कंपनी ने वादा किया है कि अश्लीलता फैलाने में शामिल अकाउंट्स को ब्लॉक किया जाएगा।

लाहौर। भारत और अमरीका के बाद पाक ने चाइनीज ऐप टिकटॉक (TikTok) पर बैन लगाया था। मगर मात्र दस दिनों के अंदर पाकिस्तान (Pakistan) ने अपना फैसला पलट दिया। वह ड्रैगन के दबाव के सामने टिक नहीं पाया। इमरान सरकार ने वीडियो शेयरिंग ऐप से बैन हटा लिया। पाक सरकार की ओर से सफाई दी गई कि चीन की ऐप कंपनी ने वादा किया है कि अश्लीलता फैलाने में शामिल सभी अकाउंट्स को ब्लॉक कर दिया जाएगा।

Azerbaijan के राष्ट्रपति का दावा, अराकेज नदी पर बने पुल को तीन दशक बाद छुड़ाया

पाकिस्तान टेलिकॉम्युनिकेशन अथॉरिटी (PTA) ने सोमवार को एक बयान में बताया कि देश में ऐप को अनब्लॉक कर दिया गया है। पाक सरकार ने 9 अक्टूबर को ऐप पर पाबंदी लगा दी थी। इमरान खान की सरकार ने आरोप लगाया था कि टिकटॉक से देश की संस्कृति पर असर पड़ रहा है।

टेलिकॉम रेग्युलेटर के अनुसार ऐप को बैन करने का फैसला समाज के विभिन्न वर्गों से मिली शिकायत के बाद सामने आया है। इनमें वीडियो शेयरिंग ऐप पर अश्लील कंटेंट देने का आरोप लगाया गया था। पीटीए ने सोमवार को बयान में बताया कि बार-बार अश्लीलता फैलाने में शामिल पाए जाने वाले अकाउंट्स को ब्लॉक करने को लेकर मैनेजमेंट से भरोसा मिलने के बाद टिकटॉक को अनब्लॉक किया गया हैै।

Karachi: नवाज शरीफ के दामाद कैप्टन सफदर को किया गिरफ्तार, बाद में मिली बेल

सूत्रों के अनुसार, कंपनी ने स्थानीय अधिकारियों ने भरोसा दिलाया है कि अश्लील और अनैतिक सामग्रियों को रोकने के लिए कदम उठाए जाएंगे। कंपनी के एक प्रवक्ता के अनुसार वे यह देखकर खुश हैं कि टिकटॉक ऐप को पाक में अनब्लॉक करा गया है। इससे पहले भारत और अमरीका ने ऐप पर बैन लगाया था। दोनों का आरोप था कि इस ऐप के जरिए देश की गोपनीय सूचनाओं में सेंध लगाने की कोशिश की जा रही थी।