शेरबहादुर देउबा 165 सांसदों के समर्थन से बने नेपाल के प्रधानमंत्री, पीएम मोदी ने दी बधाई

|

Published: 19 Jul 2021, 12:54 AM IST

देउबा को नेपाली सुप्रीम कोर्ट ने पीएम नियुक्त करा था। उन्हें एक माह में विश्वास मत साबित करने का समय दिया था।

नई दिल्ली। नेपाल के नवनियुक्त पीएम शेर बहादुर देउबा ने रविवार को नेपाली संसद का विश्वास मत हासिल कर लिया है। उन्हें 275 सदस्यीय प्रतिनिधि सभा में 165 सदस्यों का साथ मिला है। देउबा को नेपाली सुप्रीम कोर्ट ने पीएम नियुक्त करा था। उन्हें एक माह में विश्वास मत साबित करने का समय दिया था।

पीएम मोदी को कहा धन्यवाद

नेपाल के पीएम शेर बहादुर देउबा ने ट्वीट कर कहा कि 'पीएम नरेंद्र मोदी जी आपका बधाई देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। मैं भारत-नेपाल और दोनों देशों के लोगों के बीच संबंधों को मजबूत करने को लेकर आपके साथ काम करने को उत्सुक हूं'।

 

पीएम मोदी ने दी बधाई, ट्वीट कर ये कहा

विश्वास मत हासिल करने के बाद भारत के पीएम नरेंद्र मोदी ने देउबा को बधाई संदेश दिया। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि 'वह आपके साथ सभी क्षेत्रों में बेजोड़ साझेदारी को और बढ़ाने और दोनों देशों की जनता के बीच गहरे रिश्तों को बेहतर करने के लिए तैयार हैं'।

देउबा 13 जुलाई को नेपाल के नए पीएम बने थे। इससे एक दिन पहले 12 जुलाई को नेपाल की सुप्रीम कोर्ट ने पीएम नियुक्त करा था। इसके साथ अदालत ने 21 मई को भंग हुई प्रतिनिधि सभा को बहाल कर दिया था।

83 वोट खिलाफ पड़े

देउबा के पक्ष में 165 वोट पड़े। वहीं 83 वोट उनके खिलाफ आए। मतदान में 249 सांसदों ने हिस्सा लिया। नेपाली कांग्रेस, सीपीएन माओवादी सेंटर और जनता समाजवादी पार्टी-नेपाल के सांसदों ने देउबा के समर्थन में वोट दिया। जेएसपी-एन के ठाकुर-महतो धड़े ने आखिरी घंटे में देउबा को मतदान देने का निर्णय किया। यूएमएल के असंतुष्ट गुट के सांसद भी इस संबंध हुए दिखे।

पांचवीं बार बने प्रधानमंत्री

गौरतलब है कि देउबा पांचवीं बार नेपाल के प्रधानमंत्री बने हैं। 75 वर्षीय देउबा को केपी शर्मा ओली के स्थान पर पीएम बनाया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व पीएम केपी शर्मा ओली के प्रतिनिधि सभा को भंग करने के 21 मई के फैसले को खारिज कर दिया था।