Karachi: नवाज शरीफ के दामाद कैप्टन सफदर को किया गिरफ्तार, बाद में मिली बेल

|

Updated: 19 Oct 2020, 06:17 PM IST

Highlights

  • मरियम नवाज शरीफ (Mariyam Nawaz Sharif ) के पति सफदर एवान को होटल का दरवाजा तोड़ गिरफ्तार कर लिया गया।
  • विपक्षी पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने सरकार के विरोध में जमकर प्रदर्शन किया।

लाहौर। पाकिस्तान (Pakistan) की सियासत में सरकार और विपक्ष के बीच जमकर टकराव हो रहा है। एक तरफ पूर्व पीएम नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) वर्तमान इमरान सरकार को सेना की कठपुतली कह रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ इमरान भी नवाज पर कई गंभीर आरोप लगा रहे हैं।

Imran Khan ने किया पलटवार, कहा- जिया उल हक के जूते पॉलिश कर यहां तक पहुंचे नवाज शरीफ

सोमवार को पूर्व पीएम नवाज शरीफ के दामाद यानी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) की नेता मरियम नवाज शरीफ के पति सफदर एवान को होटल का दरवाजा तोड़ गिरफ्तार करा गया। वे कराची में रह रहे थे। उन्होंने हाल ही में पाक के विपक्षी दलों द्वारा पीएम इमरान खान के विरोध में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लिया था। बाद में उन्हें बेल पर रिहा कर दिया गया।

गौरतलब है कि पाक में शुक्रवार को सरकार विरोधी एक रैली निकाली गई। इस रैली में हजारों की संख्या में विपक्षी दल के नेता और कार्यकर्ता भी शामिल हुए थे। विपक्षी पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की और पार्टी के झंडे लहराए।

पीएमएल-एन उपाध्यक्ष मरियम नवाज के अनुसार सरकार विरोधी अभियान के पहले कार्यक्रम में लोगों की काफी भीड़ नजर आ रही थी। उन्होंने रैली की तस्वीर और वीडियो साझा कर लिखा कि लाहौर से बाहर निकलने में उन्हें छह घंटे लगे। हर ओर सिर्फ उनके समर्थन में लोग ही लोग दिखाई दिए।

Nawaz Sharif ने बाजवा पर लगाया सत्ता से बेदखल करने का आरोप, कहा-इमरान को लाने की रची साजिश

इस दौरान पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी के काफिले ने गुजरांवाला शहर की सीमा में प्रवेश किया। उनके आने के बाद समर्थक उत्साहित हो गए। विलावल ने वजीराबाद में कहा कि विपक्षी दल संयुक्त रूप से इस दमनकारी सरकार से लोगों से छुटकारा दिलाने के लिए काम करेंगे। यहा पर एक स्टेडियम में भीड़ एकत्र हुई।

गौरतलब है कि पीडीएम गठबंधन में पीएमएल-एन, पीपीपी, जेयूआई-एफ समेत 11 विपक्षी दल शामिल हुए। सभी दलों ने इमरान सरकार के अत्याचारों और आर्थिक मंदी को लेकर तीखी आलोचना की। सभी ने प्रधानमंत्री इमरान खान से इस्तीफे की मांग की है।