कोरोना वायरस: ईरान से आए बलूचिस्तानी बदतर जिंदगी जीने को मजबूर

|

Updated: 18 Mar 2020, 12:45 PM IST

  • पाकिस्तानियों को यहां अगल रखा गया है।
  • कोरोना वायरस के डर से इन्हें प्रवेश नहीं मिल रहा।

इस्लामाबाद। बलूचिस्तान सीमा पर बने कैंपों के हालात बदतर हैं। ईरान से आए पाकिस्तानियों को यहां अगल रखा गया है। कोरोना वायरस के डर से इन्हें प्रवेश नहीं मिल रहा। लोगों की मांग है कि उन्हें बेहतर सुविधाएं दी जाएं।