Afghanistan: बमियान प्रांत में जबरदस्त बम विस्फोट में अब तक 17 की मौत, 50 से अधिक घायल

|

Updated: 24 Nov 2020, 11:11 PM IST

HIGHLIGHTS

  • Afghanistan Bomb Blast: मंगलवार को अफगानिस्तान के बमियान प्रांत में एक बड़े बम धमाके को अंजाम दिया गया, जिसमें 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि 50 से अधिक लोग घायल हो गए।
  • टोलो न्यूज ने बताया है कि बमियान प्रांत के बमियान शहर में दोपहर के समय यह धमाका हुआ। इस धमाके में कई दुकानें और गाड़ियां क्षतिग्रस्त हुई हैं।

काबुल। अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में शांति बहाली को लेकर अफगान सरकार और तालिबान ( Afghan Government And Taliban Talk ) के बीच वार्ता का दौर जारी है, लेकिन इसके बावजूद भी हमलों का सिलसिला नहीं थम रहा है। ताजा मामला अफगानिस्तान के बमियान प्रांत में सामने आया है।

मंगलवार को अफगानिस्तान के बमियान प्रांत ( Bomb Blast In Bamiyan Province ) में एक बड़े बम धमाके को अंजाम दिया गया, जिसमें अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 50 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं।

शुरुआती जानकारी के अनुसार, बम को सड़क किनारे छिपाकर रखा गया था, जो अचानक विस्फोट हो गया। इस धमाके में एक यातायात पुलिस कर्मी समेत 17 लोगों की मौत हुई है। फिलहाल किसी ने भी इस धमाके की जिम्मेदारी नहीं ली है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर सुरक्षाबलों की टीम पहुंच गई है और जांच शुरू कर दी है।

Afghanistan: दो बड़े धमाकों से दहला निमरोज प्रांत, जिला पुलिस प्रमुख समेत 12 की मौत

स्थानीय मीडिया टोलो न्यूज ने बताया है कि बमियान प्रांत के बमियान शहर में दोपहर के समय यह धमाका हुआ। इस धमाके में कई दुकानें और गाड़ियां क्षतिग्रस्त हुई हैं। बमियान प्रांत के पुलिस प्रमुख के प्रवक्ता मोहम्मद रजा यूसुफी ने पुष्टि करते हुए बताया कि लगातार दो धमाके हुए।

तालिबान ने हमले में हाथ होने से किया इनकार

इस बम धमाके को लेकर तालिबान ने हाथ होने से इनकार किया है। तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद ने बताया कि उनका समूह इस घटना में संलिप्त नहीं है। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) से संबद्ध संगठन ने देश में अल्पसंख्यक शिया मुसलमानों के खिलाफ जंग की घोषणा की है और बमियान में ज्यादातर शिया आबादी रहती है।

बता दें कि हाल के दिनों में अफगानिस्तान में हुए कई आतंकी हमलों की जिम्मेदारी IS से संबंद्ध समूह ने ली है। पिछले दिनों एक शैक्षणिक संस्थान में हुए हमले की जिम्मेदारी इस संगठन ने ली थी। इस हमले में 50 लोगों की मौत हो गई थी, जिनमें अधिकतर छात्र थे।

अफगानिस्तान: जुमे की नमाज के बाद दो बम धमाकों से दहला नंगरहार प्रांत की मस्जिद, 62 की मौत

पिछले सप्ताह एक के बाद एक 14 सीरियल धमाकों से अफगानिस्तान की राजधानी काबुल दहल उठा था। इन धमाकों में 8 की मौत हो गई थी, जबकि 25 से अधिक घायल हुए थे। आंतरिक मंत्रालय के हवाले से मीडिया रिपोर्ट में बताया गया था कि राजधानी काबुल के चहल सुतून और अरजान कीमत इलाकों में दो रॉकेट दागे जाने के बाद कई इलाकों में ताबड़तोड़ 14 रॉकेट दागे गए।