कलेक्ट्रेट में 10 मिनिट तक होते रहे धमाके, मचा हड़कंप, देखें वीडियो

|

Published: 23 Jul 2021, 05:22 PM IST

दो दर्जन से अधिक विभागों वाले कलेक्ट्रेट भवन में करीब 10 मिनिट तक रुक-रुककर होते धमाके....

 

अशोकनगर. अशोकनगर जिले की कलेक्ट्रेट में शुक्रवार की दोपहर धमाके होने से हड़कंप मच गया। रुक-रुककर करीब 10 मिनिट तक हुए धमाकों से कलेक्ट्रेट में भगदड़ मच गई और लोग जान बचाते हुए यहां वहां भागने लगे। घटना दोपहर करीब 3.15 मिनिट की है जब कलेक्ट्रेट में बने इलेक्ट्रिक रूम में अचानक धमाके होने लगे और आग लग गई। कर्मचारी व अधिकारी मूक दर्शक बने अपने जान बचाते हुए यहां वहां भागते नजर आए। बाद में जब बिजली सप्लाई बंद हुई तो धमाके बंद हुए और अधिकारी-कर्मचारियों ने राहत की सांस ली।

देखें वीडियो-

करीब 10 मिनिट तक हुए धमाके
शुक्रवार की दोपहर 3:15 बजे के आसपास अशोकनगर कलेक्ट्रेट के इलेक्ट्रिक रूम में अचानक धमाकों के साथ आग लग गई और काफी देर तक विस्फोट होते रहे जिसके कारण कलेक्ट्रेट में अफरा तफरी मच गई। तीन मंजिला कलेक्ट्रेट बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर बने इलेक्ट्रिक रूम में अचानक धमाकों की आवाज के बाद वहां लगे बिजली के उपकरण धूं-धूं कर जलने लगे और आग की लपटें कमरे से बाहर तक निकल रही थीं। दफ्तर में मौजूद अग्निशमन उपकरणों की मदद से अधिकारी-कर्मचारियों ने आग को बुझाने की कोशिश भी की लेकिन उपकरण चले ही नहीं। बाद में जब बिजली सप्लाई बंद कराई गई तब कहीं जाकर धमाके बंद हुए।

ये भी पढ़ें- एक दुल्हनिया पर दो दूल्हों का दावा, थाने पहुंचा मामला

शोपीस बने रहे अग्निशमन यंत्र और फायर सिस्टम
जिला कलेक्ट्रेट जिले का सबसे बड़ा दफ्तर है जहां पर 1 दर्जन से अधिक शासकीय कार्यालय संचालित हैं एवं जिले के वरिष्ठ अधिकारी यहां बैठते हैं। ऐसे में कार्यालय में शासकीय रिकॉर्ड की सुरक्षा व आगजनी की घटनाओं पर तुरंत काबू पाए जाने के उद्देश्य से लाखों रुपए की लागत से वाटर फायर सिस्टम बिल्डिंग में लगाया गया है। लेकिन इस घटना ने फायर सिस्टम व अग्निशमन यंत्रों की उपयोगिता की कलई खोल दी। न तो आग लगने पर अग्निशमन यंत्र काम आए और न ही फायर वाटर सिस्टम एक्टिव हुआ। बाद में बिजली विभाग और नगर पालिका की टीम मौके पर पहुंची जिसने स्थिति पर काबू पाया।

देखें वीडियो-