Capitol Violence: ट्रंप के खिलाफ निचले सदन में प्रस्ताव पारित, अब सीनेट में महाभियोग पर होगा फैसला

|

Updated: 13 Jan 2021, 09:48 PM IST

HIGHLIGHTS

  • Donald Trump Impeachment: महाभियोग के लिए हुई वोटिंग में 215+ हाउस डेमोक्रेट्स के साथ ही 5 रिपब्लिकन सांसदों ने इसका समर्थन किया। नीचले सदन में महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत थी।
  • अब उच्च सदन सीनेट में इस प्रस्ताव को भेजा जाएगा, जहां पर वोटिंग होगी। हाउस मैजरिटी लीडर होयर ने कहा कि वे फौरन महाभियोग को US सीनेट में भेजेंगे।

वाशिंगटन। अमरीकी संसद कैपिटॉल हिल में हिंसा ( Capitol Hill Violence ) को लेकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुश्किलें बढ़ने वाली है। बुधवार को संसद के नीचले सदन यानी प्रतिनिधि सभा (हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव्स) में ट्रंप के महाभियोग ( Donald Trump Impeachment ) को लेकर प्रस्ताव पारित किया गया।

मैरीलैंड के प्रतिनिधि जेमी रस्किन ने प्रस्ताव का नेतृत्व किया जिसमें कैबिनेट के अन्य सदस्य भी शामिल हुए। इस प्रस्ताव में उपराष्ट्रपति पेंस से 25 वें संशोधन के माध्यम से पद से ट्रंप को हटाए जाने का आह्वान किया गया।

America: Trump का ट्विटर अकाउंट बंद होने के बाद चर्चा में है यह महिला, जानिए कौन हैं ये?

महाभियोग के लिए हुई वोटिंग में 215+ हाउस डेमोक्रेट्स के साथ ही 5 रिपब्लिकन सांसदों ने इसका समर्थन किया। नीचले सदन में महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत थी। अब उच्च सदन सीनेट में इस प्रस्ताव को भेजा जाएगा, जहां पर वोटिंग होगी। एनबीसी न्यूज के मुताबिक, हाउस मैजरिटी लीडर होयर ने कहा कि वे फौरन महाभियोग को US सीनेट में भेजेंगे।

सीनेट में सदस्य जूरी की तरह काम करेंगे और ट्रंप को बरी करने या दोषी ठहराने के लिए मतदान करेंगे। यदि महाभियोग प्रस्ताव पारित हो जाता है यानी ट्रंप को दोषी ठहराया जाता है तो उन्हें तत्काल पद से हटा दिया जाएगा और उनकी जगह पर उपराष्ट्रपति माइक पेंस राष्ट्रपति पद संभालेंगे।

रिपब्लिकन सदस्य ने भी पक्ष में किया मतदान

बता दें कि ट्रंप के महाभियोग के संबंध में पेश किए गए प्रस्ताव के पक्ष में रिपब्लिकन पार्टी के प्रतिनिधि एडम किंजिंगर समेत पांच सांसदों ने डेमोक्रेट का साथ देते हुए मतदान किया। हालांकि अधिकांश रिपब्लिकन सांसदों ने इसका विरोध किया।

कुछ प्रतिनिधियों ने ट्रंप की हरकतों और उनके इस व्यवहार की कड़ी निंदा भी की, लेकिन अधिकतर का मानना था कि राष्ट्रपति के अपने कार्यकाल के अंतिम कुछ दिन पहले निष्कासन सही कदम नहीं है। जेमी रस्किन ने कहा कि अब हमारे लिए यह स्पष्ट करना महत्वपूर्ण है कि यह (दंगे की घटना) राष्ट्रपति के कर्तव्य का पूरी तरह से निरादर है। बिल 223/205 पास हुआ है।

Trump के खिलाफ बुधवार को 'महाभियोग' पर होगी वोटिंग, स्पीकर नैंसी पेलोसी ने राष्ट्रपति को अमरीका के लिए बताया खतरा

गौरतलब है कि ट्रंप के खिलाफ सदन में महाभियोग का प्रस्ताव सोमवार को लाया गया था, इसमें आरोप लगाया गया था कि उन्होंने कैपिटॉल हिल यानी संसद परिसर पर हमले के लिए अपने समर्थकों को उकसाया। यह प्रस्ताव डेमोक्रेट सांसदों ने पेश किया था।