भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज एसएसपी अभिषेक दीक्षित सस्पेंड, ट्रांसफर पोस्टिंग के चक्कर में हुए बदनाम

|

Published: 09 Sep 2020, 09:26 PM IST

यूपी की योगी सरकार ने प्रयागराज के एसएसपी अभिषेक दीक्षित को भ्रष्टाचार के आरोपों में निलंबित कर दिया है। उनकी जगह पर लखनऊ में तैनात डीसीपी वेस्ट सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी को प्रयागराज का नया एसएसपी बनाया गया है।

भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज एसएसपी अभिषेक दीक्षित सस्पेंड, ट्रांसफर पोस्टिंग के चक्कर में हुए बदनाम

प्रयागराज. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज के एसएसपी अभिषेक दीक्षित को निलंबित कर दिया है।उनकी जगह लखनऊ में तैनात डीसीपी वेस्ट सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी को प्रयागराज का नया एसएसपी बनाया गया है। एसएसपी अभिषेक दीक्षित पर अपराध नियंत्रण और कानून व्यवस्था में शिथिलता के साथ भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं। यही वजह रही कि तीन तैनाती के तीन महीने में ही उन्हें न सिर्फ प्रयागराज से हटाया गया, बल्कि सस्पेंड भी कर दिये गए। एसएसपी अभिषेक दीक्षित पर कार्रवाई के साथ ही सूबे के छह आईपीएस अफसरों का भी तबादला कर दिया गया है।

 

अभिषेक दीक्षित को 16 जून 2020 को प्रयागराज के एसएसपी की जिम्मेदारी मिली थी। यहां आते ही उनपर सबसे पहला आरोपी ट्रांसफर पोस्टिंग का लगने लगा। इतना ही नहीं इनके रहते प्रयागराज पुलिस पर माफिया से साठगांठ का आरोप लगा। बाहुबली अतीक अहमद का फरार भाई पूर्व विधायक और एक लाख का ईनामी खालिद अजीम अशरफ के पकड़े जाने के बाद उसे तत्काल जेल भेज दिया जाने पर भी सवाल उठे। इसके बाद तो मामला ऊपर तक पहुंचना ही था। शिकायत लखनऊ पहुंची तो आखिरकार उनपर गाज गिरी।

 

बताते चलें क कुंभ समाप्त होने से पहले ही प्रयागराज के एसएसपी नितिन तिवारी का ट्रांसफर हो गया। उनकी जगह आए अतुल शर्मा। शर्मा जी फर्जी इनकाउंटर और भ्रष्टाचार के आरोप लगे। ट्रांसफर और पोस्टिंग भी सवालों के घेरे में आ गई। इस चक्कर में उनपर गाज गिरी और वह निलंबित कर दिये गए। सत्यार्थ अनिरुद्घ पंकज ने एक ईमानदार आईपीएस के रूप में प्रयागराज एसएसपी की जिम्मेदारी संभाली और 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़े का खुलासा किया। पर वह भी पाॅलिटिक्स का शिकार हो गए। उन्हें कोरोना हुआ तो डीजी हेडक्वार्टर से संबद्घ कर दिये गए। इसके बाद आए अभिषेक दीक्षित, पर थोड़े दिनों में ही बेतहाशा ट्रांसफर किये। उन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे, जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा।

 

इनके हुए ट्रांसफर

  नाम कहां थे नई तैनाती 1 सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी पुलिस उपायुक्त, लखनऊ एसएसपी, प्रयागराज 2 पुष्पांजलि सिंह DIG रेलवे, गोरखपुर डीआईजी, रेलवे, लखनऊ 3 देवेश कुमार पाण्डेय एएसपी, सुलतानपुर पुलिस उपायुक्त, लखनऊ 4

मनोज कुमार

DIG, 11वीं वाहिनी पीएसी, सीतापुर

डीआईजी, पीएसी लखनऊ 5

गंगा नाथ त्रिपाठी

DIG, क्षेत्रीय अभिसूचना इकाई, गोरखपुर

भ्रष्टाचार निवारण संगठन लखनऊ

6

डॉ. अखिलेश कुमार निगम

एसपी, सतर्कता अधिष्ठान लखनऊ

SP विशेष अनुसंधान शाखा सहकारिता, लखनऊ