वकील का ड्रेस पहनाकर आरोपी को कराया सरेंडर, तो होगी कार्रवाई

|

Published: 15 Sep 2020, 09:05 PM IST

यूपी बार कौंसिल अध्यक्ष जानकी शरण पाण्डेय ने आरोपियों का सरेंडर कराने के लिये अनुचित तरीकों का इस्तेमाल करने और इसके नाम पर आरोपियों से वसूली करने वाले वकीलों को चेतावनी देते हुए कहा है कि बार कौंसिल ऐसा कराने वाले वकीलों पर कार्रवाई करेगा।

वकील का ड्रेस पहनाकर आरोपी को कराया सरेंडर, तो होगी कार्रवाई

प्रयागराज. गिरफ्तारी से बचाने के लिये आरोपी को वकील का ड्रेस पहनाकर कोर्ट में पेश करना अब महंगा पड़ सकता है। उत्तर प्रदेश बार काउंसिल ने इसको गंभीरता से लिया है। बार कौंसिल अध्यक्ष जानकी शरण पाण्डेय ने कड़ी चेतावनी देमते हुए इसे अनुचित और गैर कानूनी बताया है। उन्होंने स्पष्ट किया है कि ऐसा करना ववसायिक कदाचार माना जाएगा और दोषी वकील के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। यही नहीं कार्यवाही के लिये हाईकोर्ट या डिस्ट्रिक्ट कोर्ट को भी अलग से संदर्भित किया जाएगा।

 

बार कौंसिल ने सभी अदालतों के पीठासीन अधिकारियों और अधिवक्ता संघों से भी इस तरह का कोई मामला आने पर बार कौंसिल को सूचित किये जाने की अपेक्षा की है। कौंसिल अध्यक्ष जानकी शरण पाण्डेय ने आरोपियों का सरेंडर कराने के लिये अनुचित तरीकों का इस्तेमाल करने और इसके नाम पर आरोपियों से वसूली करने वाले वकीलों को चेतावनी देते हुए कहा है कि बार कौंसिल के संज्ञान में आया है कि सरेंडर से पूर्व गिरफ्तारी से बचने के लिये वकील की पोशाक में अदालत तक लाया जाता है। वकील ही इस माम में आरोपियों के मददगार बनते हैं। यदि बार कौंसिल के संज्ञान में आया कि किसी आरोपी को वकील द्वारा वकील के ड्रेस में कोर्ट में सरेंडर कराया गया है तो इसे व्यावसायिक कदाचार माना जाएगा और सख्त कार्यवाही की जाएगी।