आरएएस 2018 भर्ती का मामला : कोरोना ने बढ़ाई साक्षात्कार की अवधि, नियुक्ति में देरी के आसार

|

Published: 17 Apr 2021, 11:39 PM IST

आयोग ने आरएएस एवं अधीनस्थ सेवाएं भर्ती के आवेदन 2 अप्रैल से 2018 से मांगे थे,आयोग ने 19 से 30 अप्रेल तक के साक्षात्कार स्थगित कर दिए हैं। केवल 3 से 7 मई तक साक्षात्कार कराए जाने प्रस्तावित हैं।

ajmer अजमेर. कोरोना ने शिक्षा सत्र का हुलिया ही बिगाड़ दिया है। कोचिंग सेंटरों पर ताले लग गए हैं जो संचालित हैं। उनमें विद्यार्थी नहीं आ रहे। आरएएस 2018 भर्ती में सिरदर्द और बढ़ गया है। याचिकाओं से जूझने के बाद साक्षात्कार शुरू हुए, लेकिन अब कोरोना संक्रमण के चलते साक्षात्कार की अवधि बढ़ गई है। इससे परिणाम निकालने सहित नियुक्ति में भी देरी होगी।

आयोग ने आरएएस एवं अधीनस्थ सेवाएं भर्ती के आवेदन 2 अप्रैल से 2018 से मांगे थे। आवेदन प्रक्रिया जून तक चली। तत्कालीन अध्यक्ष रहे डॉ. आर.एस. गर्ग का कार्यकाल खत्म हो गया। बाद में अध्यक्ष बने दीपक उप्रेती ने 5 अगस्त को आरएस प्रारंभिक परीक्षा परीक्षा कराई। इसका परिणाम 23 अक्टूबर 2018 को जारी हुआ। लेकिन प्रारंभिक से मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार तक याचिकाओं ने पीछा नहीं छोड़ा।

साक्षात्कार में यूं आई अड़चनें...

आयोग में 7 दिसंबर 2020 से 13 जनवरी 2021 तक प्रथम चरण के साक्षात्कार कराना चाहता था। लेकिन हाईकोर्ट की एकल पीठ ने कविता गोदारा की याचिका पर 9 जुलाई 2020 को घोषित मुख्य परीक्षा परिणाम को रद्द कर संशोधित परिणाम जारी करने के निर्देश दिए। मार्च में हाईकोर्ट खंडपीठ और हाल में सुप्रीम कोर्ट की खंडपीठ ने इसे रद्द किया। इसके बाद आयोग ने 23 से 26 मार्च तक पहले चरण से साक्षात्कार कराए। 31 मार्च से द्वितीय चरण के साक्षात्कार जारी थे। इन्हें कोरोना संक्रमण के चलते स्थगित करना पड़ा है।

बढ़ गई साक्षात्कार अवधि

आयोग ने 19 से 30 अप्रेल तक के साक्षात्कार स्थगित कर दिए हैं। केवल 3 से 7 मई तक साक्षात्कार कराए जाने प्रस्तावित हैं। स्थगित किए साक्षात्कार स्थिति सामान्य होने पर मई अथवा जून में कराए जाएंगे। इसके बाद परिणाम जारी और नियुक्ति की प्रक्रिया होगी।

अब यूं चला अब तक सफर

-23 अक्टूबर 2018 को घोषित किया गया था प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम

-25-26 जून 2019 को आयोजित मुख्य परीक्षा में बैठे 22 हजार 984 अभ्यर्थी

-9 जुलाई को मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी हुआ। 2010 अभ्यर्थियों को किया साक्षात्कार के लिए उत्तीर्ण

-5 अगस्त 2020 को कार्मिक विभगा ने राजस्थान अल्पसंख्यक मामलात (जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी) के 18 पदों को को राज्य सेवा में शामिल किया।(अब राज्य सेवा में 437 और अधीनस्थ सेवा के 577 पद)

-22 से 26 मार्च तक प्रथम चरण में हो चुके हैं 300अभ्यर्थियों के साक्षात्कार

- द्वितीय चरण में कुल कराए जाने हैं 1709 के अभ्यर्थियों के साक्षात्कार