कोरोना से राहत : अजमेर जिले में संक्रमित मरीजों की रफ्तार पड़ी मंदी

|

Published: 18 May 2021, 12:56 AM IST

ऑक्सीजन की दरकार भी हुई कम, मिल रहे संकेत अच्छे,यही स्थिति बनाए रखने की आवश्यकता,जेएलएन अस्पताल में रैफर गंभीर रोगियों की आवक कम

ajmer अजमेर. जिले के लिए अच्छी खबर है। कोरोना संक्रमितों की संख्या में गिरावट आना अच्छा संकेत है। अस्पताल में भर्ती रोगी भी तेजी से ठीक हो रहे हैं। जवाहर लाल नेहरू अस्पताल में कोरोना संक्रमित गंभीर मरीजों की आवक कम होने एवं ऑक्सीजन की दरकार कम होने वाले मरीजों की संख्या अब बढ़ रही है।

कुछ मरीजों का ऑक्सीजन लेवल अब मैंटेन होने के कारण भी राहत के संकेत है। पिछले दो तीन दिनों से मरीजों की संख्या भी घटी है। अगर आगामी तीन-चार दिन यही हालात रहे तो रिकवर एवं डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा होगा।

तीन दिन से कम आ रहे रोगी

अजमेर जिले में पिछले तीन दिनों से जहां कोरोना के संक्रमित मरीजों की संख्या कम आ रही है वहीं अस्पताल में भी रैफर होकर आने वाले गंभीर मरीजों की संख्या में कमी आई है। जेएलएन अस्पताल में मोर्चा संभालने वाले चिकित्सकों एवं रेजीडेंट चिकित्सकों के अनुसार दो दिनों से राहत के संकेत है लेकिन आगे भी यही स्थिति रहे। जबकि पिछले दो सप्ताह में गंभीर मरीजों की संख्या एकाएक बढ़ गई थी, कोविड ओपीडी के बाहर एम्बुलेंस, निजी वाहनों में इंतजार करते मरीज, ओपीडी में सिलेण्डर पर कुर्सी, व्हीलचेयर आदि पर ऑक्सीजन लेने वालों की संख्या कहीं अधिक थी।

...बस ऐसी ही स्थिति बनी रहे

डॉ.अनिल सामरिया, नोडल अधिकारी कोविड जेएलएन अस्पताल के अनुसार पिछले तीन दिनों से कोविड गंभीर मरीज कम ही अस्पताल में आए हैं। वार्ड में भर्ती मरीजों में भी सुधार हो रहा है। रविवार को एक साथ 12 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया था। वहीं सोमवार को बी कई मरीज डिस्चार्ज हुए हैं। पॉजिटिव मरीजों की संख्या कम होना भी यह अच्छा संकेत हैं, बस ऐसी ही स्थिति आगे भी बनी रहे।

अजमेर जिले में एक दिन में 504 रिकवर

कोरोना को मात देने वालों की संख्या भी अब तेजी से बढ़ रही है। अजमेर जिले में सोमवार को एक दिन में 504 कोरोना संक्रमित रिकवर हुए हैं। इनमें कइयों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया तो कई होम आइसोलेट में रहकर रिकवर हुए हैं। एक दिन में संक्रमित मरीजों के मुकाबले रिकवर होने वालों की संख्या करीब 200 अधिक है।