ACB TRAP: लास्ट पैरा भेजो फैसले का, पढ़ा देना सर्कुलेट मत करना....

|

Published: 18 Apr 2021, 08:28 AM IST

निलंबित सदस्यों सहित उसके नेटवर्क में शामिल लोग खुलकर डील कर रहे थे। एसीबी ने उनके फोन सर्विलांस पर लिए थे। इनकी रिकॉर्डिंग से घूसकांड बाहर निकल पाया है।

अजमेर.

राजस्व मंडल में घूसकांड कितना चरम पर था यह दलाल और सदस्यों के बीच कॉल रिकॉर्डर से उजागर हो रहा है। मंडल के फैसलों की अहम पत्रावलियां ना केवल बाहरी लोगों तक पहुंच रही थीं, बल्कि फैसलों की एवज में सोना उगल रही थीं। दलाल और निलंबित सदस्यों सहित उसके नेटवर्क में शामिल लोग खुलकर डील कर रहे थे। एसीबी ने उनके फोन सर्विलांस पर लिए थे। इनकी रिकॉर्डिंग से घूसकांड बाहर निकल पाया है।

किसी को सर्कुलेट मत करना...9 अप्रेल-7.51.35 बजे
शशिकांत और हितेश नामक व्यक्ति के बीच बातचीत होती है। शशिकांत कहता है..मैंने एकाउन्ट नंबर भेजे हैं। मुझे वो लास्ट पैरा भेजो फैसले का। इसे सेठजी को पढ़ा देना लेकिन किसी को सर्कुलेट मत करना। मुझे 10 बजे तक बता देना। इसी दिन 9.38.1 5 बजे शशिकांत फिर हितेश से बात करता है। शशिकांत पूछता है...फैसला पढ़ लिया क्या....। हितेश कहता है...मैंने पढ़ लिया लेकिन सेठजी ने नहीं पढ़ा। शशिकांत कहता है.... जल्दी करो। 10.29 बजे शशिकांत फोन कर हितेश को जल्द पैसे जमा कराने को कहता है।

मैं बिना स्टे इश्यू करूंगा नोटिस (4 नवम्बर 2020, 14.40 बजे)
निलंबित सदस्य सुनील शर्मा की आशुतोष गुप्ता से बातचीत होती है...। सुनील आशुतोष को यूआईटी वाला निर्णय कर देने और उसे ऑनलाइन अपलोड कराने को कहता है। साथ ही बोलता है, कि वकील को कहकर सर्टिफाइड कॉपी के लिए एप्लाई करा दे। इसी दिन 17.21 बजे सुनील शर्मा से बातचीत में आशुतोष गुप्ता यूआईटी वाले वाले मैटर में निर्णय के खिलाफ किए जाने वाले उपायों के बारे में पूछता है। शर्मा कहता है, कि रिव्यू या स्पेशल पिटीशन लगाने पर मैं उसे खारिज कर दूंगा। आशुतोष इस प्रकरण में केविएट लगाने की पूछता है। इस पर शर्मा कहता है..केविएट लगाने की जरूरत नहीं है...यदि वो लगाएंगे तो मुझे ध्यान है....मैं बिना स्टे दिए नोटिस इश्यू कर दूंगा।

आप मस्त हो जाओ...22 नवम्बर 2020: 1 7.29.30 बजे

निलंबित सदस्य सुनील शर्मा की किसी नीरज माथुर नामक व्यक्ति से बातचीत होती है। माथुर शर्मा को कहता है...वो जोशीजी का फोन आ रहा था, वो पूछ रहे थे कुछ जल्दी हो जाएगा क्या..। क्योंकि वो अरेजमेंट भी करना है..कुछ बता दें तो....। शर्मा कहता है..ठीक है बता दूंगा जब होगा। माथुर बोलता है...जी हां मैंने कहा था उनको...। यहां शर्मा बोलता है...आप मस्त हो जाओ...मैं अपने आप बता दूंगा।

शशि ब्रीफ करेगा, बहुत इम्पॉर्टेन्ट है...18 दिसंबर 2020(14.06)
निलंबित सदस्य सुनील शर्मा और बी.एल. मेहरडा आपस में बातचीत करते हैं। कॉल कनेक्ट होने से पहले पास में बैठे शशिकांत को शर्मा कहता है..सामान लग रहा है उनको पता नहीं है क्या। कल फोन किया तो नहीं उठाया, बुला रहे हैं...इसको पता है कि साहब निकलेंगे। बाद में हमारी चलेगी नहीं क्या? कॉल कनेक्ट होने के बाद शर्मा मेहरडा को पूछता है...कहां हो निकल गए क्या? बहुत अर्जेन्ट काम था आपसे..। मेहरडा कहता है..मैं वापस आता हूं..। शर्मा कहता है..मैं तो वापस जयपुर निकल जाऊंगा। सुनो आपको शशि ब्रीफ करेगा। बहुत इम्पोर्टेन्ट मुद्दा है...। मेहरडा बोलता है...ठीक है ठीक है..

थैले में रुपए डालकर रखो अलग...17 मार्च 2021, 21.36
शशिकांत और उसकी पत्नी मंजुला के बीच बातचीत होती है। बातचीत में शशिकांत कहता है...रघुवीर द्वारा लाए गए थैले में रुपए डालकर अलग रखो। ताकि बाद में गिनने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह ज्यादा बढिय़ा भी रहेगा। 19 मार्च को 13.51 बजे शशिकांत की (शब्बीर खान चालक सुनील शर्मा) से बातचीत होती है। शशिकांत पूछता है...साहब तैयार हो गए क्या। कोई साधन नहीं मेरे पास..मेरे घर से होते हुए निकलेंगे।

2.50 लाख देने में दिक्कत तो नहीं..24 मार्च 2021, 14.41.48
शशिकांत और रोहित नामक व्यक्ति के बीच बातचीत होती है। रोहित शशिकांत से रघुवीर के मोबाइल नंबर पूछते हुए बोलता है...वो बड़े वकील साहब के कहे अनुसार रघुवीर को 2.50 लाख रुपए देने हैं...दिक्कत नहीं है। शशिकांत स्वयं को ही देने की बात कहता है...। 30 मार्च को 15.21 बजे शशिकांत और रघुवीर की बात होती है। शशिकांत कहता है...बात हो गई है..बात बिल्कुल पॉजीटिव है। लेकिन वो आपसे मिलकर बता करेंगे। उन्होंने मुझे कल 10.30 बजे बुलाया है...खाना खाकर मुझसे मिल लेना आप।