गुजरात पुलिस 10 हजार बॉडीवॉर्न कैमरों से होगी सुसज्ज: जाड़ेजा

|

Published: 08 Mar 2021, 11:30 PM IST

Gujarat police, body worn camera, Pradeep singh jadeja, Ahmedabad, Nirbhaya logo निर्भया प्रोजेक्ट लोगो महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार का संकल्प, आइशा हो या आशा, उनसे अत्याचार बर्दाश्त नहीं करेंगे

अहमदाबाद. गृह राज्यमंत्री प्रदीप सिंह जाड़ेजा ने घोषणा की कि गुजरात पुलिस के जवानों को 10 हजार बॉडीवॉर्न कैमरों से सुसज्ज किया जाएगा।
वह सोमवार को अंतराराष्ट्रीय महिला दिवस पर अहमदाबाद शहर पुलिस मुख्यालय में शहर पुलिस के निर्भया प्रोजेक्ट के लोगों के अनावरण समारोह को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि गुजरात पुलिस को स्मार्ट ही नहीं तकनीक रूप से शार्प पुलिस बनाया जाएगा। पुलिस पर आए दिन गलत प्रकार के जो आरोप लगते हैं, उसे मद्देनजर रखते निर्णय किया है कि पुलिसकर्मी के शरीर पर जब सीसीटीवी कैमरा होगा तो सामने वाला व्यक्ति अगर पुलिस पर हमला करता है या अन्य दुव्र्यवहार करता है तो उसकी रिकॉर्डिंग होगी। जिससे सच्चाई का पता चल जाएगा। इसलिए गुजरात पुलिस को १० हजार बॉडीवार्न कैमरों से सुसज्ज किया जाएगा।
जाड़ेजा ने कहा कि शहर पुलिस का निर्भया प्रोजेक्ट का लोगो यह केवल लोगो नहीं बल्कि पूरे गुजरात की महिलाओं की सुरक्षा के प्रति राज्य सरकार का संकल्प है। गुजरात में महिला और पुरुष एक समान हैं।
उन्होंने अहमदाबाद शहर की आइशा के आत्महत्या मामले का उल्लेख करते हुए कहा कि आइशा हो या आशा हो हम उनके साथ इस प्रकार का व्यवहार बर्दाश्त नहीं करेंगे।
शहर पुलिस आयुक्त संजय श्रीवास्व ने शहर की महिलाओं और महिला पुलिस कर्मचारियों के सशक्तीकरण के लिए उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी। इस मौके पर गुजरात राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा लीलाबेन अंकोलिया, शहर के कई विधायक, पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।

पूरे रिवरफ्रंट पर लगेंगे सीसीटीवी, दो स्पीड बोट दौड़ेंगीं
गृहराज्यमंत्री ने कहा कि साबरमती रिवरफ्रंट में छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने के लिए ईस्ट से लेकर वेस्ट तक के पूरे इलाके में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इतना ही नहीं ईस्ट-वेस्ट क्षेत्र में रोड साइड पर पेट्रोलिंग सघन की जाएगी। साबरमती नदी में आत्महत्या की घटनाओं को रोकने के लिए दो स्पीड बोट रखी जाएंगीं, ताकि कोई आत्महत्या करने आए और नदी में कूदे तो तत्काल उसके जीवन को बचाया जा सके।

कफ्र्यू मुक्त गुजरात का श्रेय पुलिस को
जाडेजा ने कहा कि पहले गुजरात में साम्प्रदायिक दंगे होते थे। बीते २० साल से कफ्र्यू मुक्त गुजरात दिया है। इसका श्रेय गुजरात पुलिस को श्रेय है। गुजरात में शांति, सुरक्षा और विकास है उसका श्रेय भी पुलिस को है।

२४० करोड़ का है निर्भया प्रोजेक्ट
जाडेजा ने कहा कि निर्भया प्रोजेक्ट २४० करोड़ का है। इसके तहत दो शी टीम गठित होंगीं। १०० कारें उपलब्ध कराई जाएंगीं। १८१ अभयम हेल्पलाइन के लिए ४० गाडिय़ां एवं अन्य ६० गाडिय़ां खरीदी जाएंगीं। १८० करोड़ से ज्यादा रुपए तकनीक एवं अन्य उपकरणों पर खर्च होंगे।