सीएम का राज्य चुनाव आयुक्त को पत्र: गांधीनगर मनपा चुनाव स्थगित करने की मांग

|

Published: 09 Apr 2021, 08:41 PM IST

Corona, Gandhinagar municipal corporation election, CM Vijay rupani, postponed election, Congress demand गुजरात प्रदेश कांग्रेस ने भी की गांधीनगर मनपा चुनाव स्थगित करने की मांग

अहमदाबाद. गुजरात में कोरोना संक्रमण के गंभीर होते संकट को देखते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने भी गांधीनगर महानगर पालिका के चुनाव स्थगित की मांग की है। उन्होंने इस संबंध में राज्य चुनाव आयुक्त संजय प्रसाद को पत्र लिखा है।
पत्र में उन्होंने मतदाताओं, मतदान प्रक्रिया से जुड़े कर्मचारियों और लोगों के व्यापक हित को ध्यान में रखते हुए फिलहाल गांधीनगर मनपा का चुनाव स्थगित करने की मांग की है। इसमें उन्होंने कहा कि चुनाव में राजनीतिक दल प्रसार-प्रसार करते हैं, जिसमें बड़ी संख्या में लोग जुड़ते हैं। चुनावी प्रक्रिया में भी कई कर्मचारी जुडेंगे। आज की परिस्थिति में उनके भी संक्रमित होने का खतरा है। जिससे फिलहाल चुनाव को स्थगित किया जाए। गांधीनगर महानगरपालिका के लिए 18 अप्रेल को मतदान होना है। 20 अप्रेल को मतगणना प्रस्तावित है।

गुजरात प्रदेश कांग्रेस ने की गांधीनगर मनपा चुनाव स्थगित करने की मांग

अहमदाबाद. गुजरात में दिन प्रतिदिन कोरोना नए रिकॉर्ड बना रहा है। गुरुवार को बीते 24 घंटे में ही राज्य में चार हजार से ज्यादा कोरोना के नए मरीज सामने आए और ३५ की मौत हो गई। ऐसी स्थिति को देख गुजरात प्रदेश कांग्रेस समिति ने गांधीनगर महानगर पालिका के प्रस्तावित चुनाव को फिलहाल स्थगित करने की मांग की है।
गुरुवार को गुजरात प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अमित चावड़ा ने राज्य के चुनाव आयुक्त संजय प्रसाद ने पत्र लिखकर यह मांग की। पत्र में उन्होंने कहा कि कोरोना के केस राज्य में तेज गति से बढ़ रहे हैं। गांधीनगर सहित राज्य के २० शहरों में रात्रि कफ्र्यू लगाने की नौबत आई है। विशेषज्ञों ने आगामी दो सप्ताह कोरोना के नए मरीजों का सिलसिला जारी रहने की बात कही है। ऐसे में गांधीनगर मनपा का चुनाव स्थगित किया जाए। क्योंकि चुनाव प्रचार भी ठीक नहीं है। लोग भी यह मांग कर रहे हैं कि कोरोना के ऐसे हालत में चुनाव कराना ठीक नहीं है। कांग्रेस की मांग है कि इसे फिलहाल स्थगित किया जाए।
चावड़ा ने पत्र में इस बात का भी उल्लेख किया कि कांग्रेस ने तो छह मनपा के साथ ही गांधीनगर मनपा का चुनाव कराने की मांग की थी। लेकिन उसे मान्य नहीं रखा गया। उसके बाद भी मौजूदा स्थिति को देखते हुए भी चुनाव स्थगित करने की मांग करते हुए प्रशासक नियुक्त करने को कहा था लेकिन उसे भी नहीं माना गया। अब स्थिति विकट हो रही है।