हंसते-हंसते वीडियो बनाकर नदी में कूद गई विवाहिता, मौत

|

Published: 27 Feb 2021, 08:39 PM IST

Ahmedabad, Suicide, women, Sabarmati riverfront, Video, viral पति पर शारीरिक-मानसिक रूप से प्रताडि़त करने का आरोप, -मृतका के पिता ने साबरमती रिवरफ्रंट वेस्ट थाने में दर्ज कराई प्राथमिकी

अहमदाबाद. 'ये प्यारी सी नदी प्रे करते हैं कि ये मुझे अपने आप में समा ले।' खुशमिजाज अंदाज में हंसते-हंसते वीडियो बनाकर एक विवाहिता ने साबरमती नदी में छलांग लगा दी। कुछ समय के बाद फायरब्रिगेड के जवानों ने उसे बाहर निकाला। १०८ से वीएस अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
विवाहिता की पहचान वटवा निवासी आइशा उर्फ सोनू (23) के रूप में हुई है। उसके पिता लियाकतअली मकराणी (५४) ने इस बाबत आइशा के पति आरिफ खान के विरुद्ध शारीरिक, मानसिक रूप से आइशा को प्रताडि़त करने और आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए साबरमती रिवरफ्रंट वेस्ट थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। आइशा ने २५ फरवरी को शाम साढ़े चार बजे के बाद यह कदम उठाया। उससे पहले उसकी पिता से बातचीत हुई। उसके पिता व मां ने उसे रोकने की कोशिश भी की थी।
प्राथमिकी के अनुसार आइशा का विवाह छह जुलाई २०१८ को राजस्थान के जालौर शहर में गर्वमेंट सार्वजनिक हॉस्पिटल के पास रहने वाले आरिफ खान के साथ हुआ था। आरोप है कि दहेज के लिए पति, सास,ससुर उसे प्रताडि़त करते थे। दो से तीन बार उसे राजस्थान से अहमदाबाद भी छोड़ गए। गत वर्ष जनवरी महीने में समाधान के तहत आरिफ अहमदाबाद आया। पैसों की मांग की तो डेढ़ लाख रुपए उसे दिए और आइशा को लेकर वह राजस्थान गया। आरोप है कि उसके बाद भी आइशा को गत वर्ष मार्च महीने में वह वापस अहमदाबाद छोड़ गया। तब से वह यहीं थी। इस संबंध में २१ अगस्त को आइशा ने वटवा थाने में प्राथमिकी भी दर्ज कराई थी।

अपनी जिंदगी तो यहीं तक, खुश हूं कि अल्लाह से मिलूंगी...
दो मिनट चार सेकेन्ड के वीडियो में आइशा कहती है कि वह जो भी कुछ करने जा रही है वह उसकी मर्जी से करने जा रही हैं। किसी का जोर या दबाव नहीं है। ...डियर डेड कब तक लड़ेंगे अपनों से, केस विड्रॉअल कर दो, नहीं करना...प्यार करते हैं आरिफ से, उसे परेशान थोड़े ही करेंगे, अगर उसे आजादी चाहिए ठीक है तो वह आजाद रहे। अपनी जिंदगी तो यहीं तक है...खुश हूं कि मैं अल्लाह से मिलूंगी। उन्हें कहूंगी कि मेरे से गलती कहां रह गई।...मुझे दुआओं में याद करना क्या पता जन्नत मिले ना मिले।

'तुझे मरना है तो मर, वीडियो मुझे भेज'
प्राथमिकी में बताया गया है कि आरिफ ने कहा कि 'तुझे मरना है तो मर जा और वीडियो मुझे भेजना।' जिस पर आइशा ने वीडियो बनाकर आरिफ को भेज दिया।