वडोदरा पुलिस प्रशिक्षण स्कूल को देश की श्रेष्ठ पुलिस प्रशिक्षण संस्था का अवार्ड

|

Published: 06 Feb 2021, 08:02 PM IST

Ahmedabad, Gujarat, Vadodara police training school, best, BPRD, award, Karai Gujarat police Academy गुजरात पुलिस अकादमी कराई ने भी पाया पश्चिमी क्षेत्र की श्रेष्ठ प्रशिक्षण संस्था का खिताब, बीपीआरएंडडी ने वर्ष २०१७-१८, २०१८-१९,२०१९-२० के श्रेष्ठ पुलिस प्रशिक्षण अवार्ड किए घोषित

अहमदाबाद. गुजरात पुलिस ने राष्ट्रीय स्तर फिर तीन अवार्ड अपने नाम किए हैं। गुजरात पुलिस की वडोदरा स्थित पुलिस प्रशिक्षण स्कूल को वर्ष २०१७-१८ का देश का श्रेष्ठ पुलिस प्रशिक्षण संस्थान का अवार्ड प्राप्त हुआ है। यहां पुलिस कांस्टेबलों को प्रशिक्षण दिया जाता है।
केन्द्र सरकार के गृहमंत्रालय के अधीन कार्यरत पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (बीपीआरएंडडी) की ओर से हाल ही में घोषित किए गए अवार्ड में वडोदरा पुलिस प्रशिक्षण स्कूल को राष्ट्रीय स्तर का अवार्ड प्राप्त हुआ है।
इसके अलावा वर्ष २०१८-१९ के लिए गुजरात पुलिस अकादमी कराई को राजपत्रित अधिकारी (गजेटेड ऑफिसर) और वर्ष २०१९-२० के लिए गैर राजपत्रित अधिकारी (नॉन गजेटेड ऑफिसर) को प्रशिक्षण देने वाली पश्चिम जोन की श्रेष्ठ प्रशिक्षण संस्था का अवार्ड प्राप्त हुआ है। कराई पुलिस अकादमी में पुलिस उपाधीक्षक, पुलिस उपनिरीक्षक, पीआई, पीएसआई स्तर के अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जाता है।
बीपीआरएंडडी की ओर से हाल ही में एक साथ वर्ष २०१७-१८, २०१८-१९ और २०१९-२० के लिए श्रेष्ठ पुलिस प्रशिक्षण संस्थान अवार्डों की घोषणा की गई। इसकी प्रक्रिया को नवंबर २०२० में शुरू किया गया था।
अवार्ड स्वरूप वडोदरा पुलिस प्रशिक्षण स्कूल को २० लाख रुपए की पुरस्कार राशि एवं संस्था के अध्यक्ष को केन्द्रीय गृहमंत्री की ओर से ***** (निशान) प्रदान किया जाएगा। जबकि गुजरात पुलिस अकादमी को दो लाख की नकद पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी।
डीजीपी आशीष भाटिया ने इन पुलिस प्रशिक्षण संस्थाओं की कमान संभालने वाले एडीजीपी विकास सहाय व प्रशिक्षण संस्थाओं के अध्यक्षों को बधाई दी। विकास सहाय ने इसके पीछे प्रशिक्षण संस्थाओं में काम करने वाले ड्रिल इंस्ट्रक्टरों के योगदान को अहम बताया।

10 कर्मचारियों को प्रशिक्षण श्रेष्ठता मेडल
बीपीआरएंड डी ने गुजरात की पुलिस प्रशिक्षण संस्थाओं में कार्य करने वाले 10 अलग-अलग पुलिस अधिकारियों कर्मचारियों को उनके श्रेष्ठ कार्य के लिए केन्द्रीय गृहमंत्री की ओर से प्रशिक्षण श्रेष्ठा मेडल भी प्रदान करने की घोषणा की गई है।

ये थे मानदंड
बीपीआरएंडडी की ओर से ढांचागत सुविधाएं, प्रशिक्षण संस्था की क्षमता, स्वच्छता, प्रशिक्षण देने की पद्धति, आवासीय सुविधा एवं अलग-अलग विषय पर दिए जाने वाले प्रशिक्षण का मूल्यांकन किया जाता है।