कोरोना संक्रमित विधायक की पत्नी को नहीं मिला अस्पताल में बेड, डीएम के फोन पर आठ घंटे बाद शुरू हुआ इलाज

|

Published: 09 May 2021, 01:06 PM IST

— आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में फिरोजाबाद से इलाज कराने गईं थी विधायक की पत्नी, विधायक भी हुए कोरोना संक्रमित।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आगरा। उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में कोरोना मरीजों को किस तरह इलाज मिल रहा होगा इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि विधायक की कोरोना संक्रमित पत्नी को अस्पताल में बेड नहीं मिला। डीएम के फोन पर वेंटिलेटर को मिला लेकिन इलाज शुरू नहीं हो सका। डीएम को इलाज शुरू कराने के लिए दो बार फोन करना पड़ा।
यह भी पढ़ें—

पति और ससुर को नशीली चाय पिलाकर जेवर और नगदी लेकर फुर्र हो गई दुल्हनियां

यह था मामला
फिरोजाबाद जिले के जसराना से विधायक रामगोपाल उर्फ पप्पू लोधी और उनकी पत्नी संध्या लोधी कोरोना संक्रमित हुए थे। पत्नी को सांस लेने में तकलीफ होने पर उनका फिरोजाबाद के ओम हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। जहां सांस लेने में तकलीफ बढ़ने पर चिकित्सकों ने उन्हें रेफर कर दिया। उसके बाद उन्हें आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज भेजा गया। जहां उन्हें बेड नहीं मिला। आगरा डीएम प्रभु एन सिंह ने बेड के लिए फोन किया इसके बाद भी उन्हें रात्रि 12 बजे भर्तीकिया जा सका लेकिन इलाज फिर भी शुरू नहीं हो सका। इलाज शुरू न होने पर डीएम आगरा ने दोबारा फोन किया उसके बाद रात्रि ढाई बजे उन्हें वेंटिलेटर देकर इलाज शुरू किया गया।

विधायक को मिली अस्पताल से छुट्टी
विधायक रामगोपाल की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। वह घर पर ही क्वारंटीन रहेंगे। विधायक ने कहा कि जब विधायक की पत्नी को अस्पताल में इलाज नहीं मिल पा रहा तो आम आदमी का क्या हाल होता होगा। कई फोन करने के बाद पत्नी को अस्पताल में भर्ती कर इलाज शुरू कराया जा सका।