बेटे और बेटी ने मिलकर रची पिता की हत्या की खौफनाक साजिश

|

Published: 31 Mar 2021, 04:00 PM IST

Highlights

- आगरा में 26 मार्च को हुई एक व्यक्ति की हत्या किया चौंकाने वाला खुलासा

- बेटे-बेटी ने पिता की हत्या कर पड़ोसियों पर लगाया था आरोप

- पुलिस जांच के दौरान पत्नी के बयान पर हुआ मामले का खुलासा

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आगरा. यूपी के आगरा में बेटे और बेटी को पिता की हत्या के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने हत्याकांड का चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि बेटा पिता की संपत्ति चाहता था। वहीं, बेटी प्रेमी के साथ शादी रचाना चाहती थी, लेकिन पिता उसकी शादी के लिए तैयार नहीं था। पिता को रोड़ा बनते देख बेटे-बेटी ने सुनोयित साजिश रचते हुए पिता की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी। इतना ही नहीं खुद को बचाने के लिए हत्या का दोष भी पड़ोसियों पर मढ़ दिया।

यह भी पढ़ें- शराब पीने से रोका तो पत्नी को बेरहमी से पिटाई, मड़हे को लगा दी आग, जिंदा जल गई पत्नी

दरअसल, 26 मार्च की रात आगरा निवासी सुनील कुमार बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामलेे सुनील के बेटे अनुज और बेटी अल्पना ने पड़ोसियों के खिलाफ केस दर्ज कराया था। पुलिस ने मामले की जांच की तो कड़ी दर कड़ी पूरी सच्चाई सामने आ गई। पुलिस को जांच के दौरान पता चला कि सुनील कुमार संपत्ति बेचकर अपने शौक पूरा करने में लगा था। हाल ही उसने अपनी छह बीघा जमीन का 20 लाख रुपए में सौदा भी कर दिया था। जब बेटे और बेटी ने इसका विरोध किया तो सुनील ने उनसे मारपीट की।

चाइपाई के पाए से सिर पर ताबड़तोड़ वारकर मौत के घाट उतारा

जांच में सामने आया कि बेटा अनुज पिता की संपत्ति पर अपना हक चाहता था। वहीं, बेटी अल्पना का सूरजनगर निवासी मदन यादव के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। अल्पना मदन से शादी करना चाहती थी, लेकिन सुनील को यह मंजूर नहीं था। इसलिए अनुज अपने दोस्तों और अल्पना ने अपने प्रेमी को पिता की हत्या करने की योजना में शामिल कर लिया। इसके बाद उन्होंने सुनील की चाइपाई के पाए से सिर पर ताबड़तोड़ वारकर मौत के घाट उतार दिया और आरोप पड़ोसियों पर लगा दिया।

पत्नी के बयान से हुआ साजिश का पर्दाफाश

पुलिस के अनुसार, मृतक सुनील की पत्नी आशा देवी के बयान पर अनुज और उसके दोस्त के साथ अल्पना और उसके प्रेमी के वारदात में लिप्त होने की बात का खुलासा हुआ। एसपी क्राइम ने बताया कि सुनील कुमार संपत्ति को बेच रहा था। इसलिए बेटा अनुज और बेटी अल्पना उसके खिलाफ हो गए। उन्होंने संपत्ति को कब्जाने के लिए सुनील को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें- छेड़छाड़ से परेशान होकर 14 साल की लड़की ने लगाई आग, जांच में जुटी पुलिस