Latest News in Hindi

कुमार विश्वास के बाद बीजेपी के नेता ने खुलकर किया देवकी नंदन ठाकुर की गिरफ्तारी का विरोध

By suchita mishra

Sep, 12 2018 02:00:44 (IST)

भाजपा नेता ने गिरफ्तारी का विरोध करते हुए इसे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर प्रहार बताया है।

आगरा। 11 सितंबर को आगरा के एक होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कथावाचक देवकी नंदन ठाकुर की गिरफ्तारी कर ली गई। वे उस समय एससी—एसटी एक्ट के संशोधन के विरोध में प्रेसवार्ता कर रहे थे। इसी दौरान पुलिस वहां पहुंची और प्रेस वार्ता को बीच में रुकवाकर कथावाचक की गिरफ्तारी की। इस गिरफ्तारी की विख्यात कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट के जरिए निंदा की, साथ ही भाजपा सरकार पर भी निशाना साधा। कुमार विश्वास के साथ ही आगरा में भाजपा के नेता सुनील विकल ने भी सोशल मीडिया पर देवकी नंदन ठाकुर की गिरफ्तारी का खुलकर विरोध किया है। जानिए क्या लिखा है।

गिरफ्तारी को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर प्रहार बताया
देवकी नंदन ठाकुर का फोटो अपनी फेसबुक वॉल पर शेयर करते हुए भाजपा नेता सुनील विकल ने लिखा है, आगरा में प्रख्यात कथा वाचक श्री देवकी नन्दन ठाकुर की गिरफ्तारी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर प्रहार है। समर्थकों एवं शुभचिंतको की नाराजगी दूर करने के लिए ठोस प्रबन्धन एवं प्रभावी कदम उठाने के स्थान पर हताशा और निराशा में उठाये गये कदम आत्मघाती साबित होंगे। उनकी इस पोस्ट के बाद तमाम लोगों के कमेंट आ रहे हैं और लोग उनका समर्थन कर रहे हैं। बता दें कि सुनील विकल भाजपा नेता हैं। वे पूर्व मंत्री सत्य प्रकाश विकल के बेटे हैं और क्षेत्र बजाजा कमेटी आगरा के अध्यक्ष हैं।

 

ये कहा था कुमार विश्वास ने
मशहूर कवि कुमार विश्वास ने कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर की गिरफ्तारी की निंदा की थी व योगी सरकार पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया था कि जातिगत वोटों की बेशर्म लालसा में इस सरकार ने पहले तो संसद में एससी-एसटी बिल लाकर बाबा साहेब द्वारा प्रदत्त और सर्वोच्च न्यायालय द्वारा प्रतिष्ठित समान नागरिक अधिकारों का अपहरण किया। अब उसका विरोध कर रहे कथावाचक को गिरफ्तार कर सरकार ने सिद्ध कर दिया कि अहंकार विवेक का अपहरण कर चुका है।