दो माह बाद एक बार फिर लोग कहेंगे वाह ताज! कोरोना को लेकर बंद किया गया था ताजमहल

|

Published: 15 Jun 2021, 10:59 AM IST

— आगरा में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर पुरातत्व विभाग द्वारा 16 अप्रैल को ताजमहल के दरवाजे टूरिस्टों के लिए बंद कर दिए गए थे।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आगरा। दुनियां के सात अजूबों में शुमार आगरा का ताजमहल एक बार फिर संगमरी छटा बिखेरने को तैयार है। दो माह से बंद पड़े ताजमहल का टूरिस्ट एक बार फिर दीदार कर सकेंगे। पुरातत्व विभाग ने सभी मॉन्युमेंट्स को बुधवार से खोलने की अनुमति दे दी है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर ताजमहल को बंद किया गया था।
यह भी पढ़ें—

बोरवेल में गिरा छह साल का मासूम, एनडीआरएफ की टीम का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

16 अप्रैल से है बंद
कोरोना संक्रमण के चलते विगत 16 अप्रैल से बंद ताजमहल को पूरे दो महीने के लिए बंद किया गया था। वर्ष 2020 में भी कोरोना संक्रमण के कारण ताजमहल, आगरा किला, फतेहपुर सीकरी समेत देशभर के केंद्रीय संरक्षित स्मारकों को पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया था। ताजमहल के दरवाजे 207 दिन तक खुलने के बाद फिर बंद हो गए थे। बीते साल 188 दिनों तक ताजमहल सैलानियों के लिए बंद किया गया था। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में 15 जून तक ताजमहल बंद रखने के आदेश थे। अब जब कोरोना के मामले कम हुए तो जिंदगी एक बार फिर पटरी पर लौटने लगी है और रोजगार के हिसाब से सभी मॉन्युमेंट्स को खोलने की अनुमति दे दी गई। इससे पहले ताजमहल कोरोना के चलते ही 188 दिनों के लिए बंद किया गया था।
यह भी पढ़ें—

आगरा—लखनऊ एक्सप्रेस वे पर एक घंटे के अंतराल में दो हादसे, 15 यात्री घायल


अब तक पांच बार बंद हुआ ताज
ताजमहल निर्माण कार्य वर्ष 1632 से 1648 के बीच पूरा हुआ था। इसके बाद से लेकर अब तक 372 सालों में ताजमहल केवल पांच बार बंद किया गया है। इससे पहले 1971 में पाकिस्तान से युद्ध के दौरान ताजमहल को बंद करते हुए ढक दिया गया था। उस समय 14 दिन तक ताजमहल बंद रहा था। 1978 सितंबर के महीने में यमुना में बाढ़ आ गई थी। उस समय भी ताजमहल को बंद किया गया था। तीसरी बार ताजमहल कोरोना संक्रमण के कारण 17 मार्च से 20 सितंबर तक बंद किया गया था। विगत वर्ष कोरोना संक्रमण के चलते ताजमहल को बंद किया गया था और इस वर्ष 16 अप्रैल को ताजमहल पांचवीं बार बंद किया गया।