अमरीका में तूफान 'फ्लोरेंस' का खौफ, 10 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया

Siddharth Priyadarshi

Publish: Sep, 11 2018 02:27:24 PM (IST) | Updated: Sep, 11 2018 02:28:53 PM (IST)

हरीकेन सेंटर ने कहा है कि इसका असर 100 किमी दूर से महसूस होगा।

वाशिंगटन। अमरीका के दक्षिण पूर्व इलाकों के लगभग 10 लाख से अधिक लोगों को पांचवी श्रेणी के एक तूफान 'फ्लोरेंस' के कारण अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। फ्लोरेंस तूफान को सोमवार को दो बार चौथी श्रेणी से पांचवीं श्रेणी में अपग्रेड किया गया। इसकी वजह से नॉर्थ कैरोलिना, साउथ कैरोलिना और वर्जीनिया के तटीय इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के निर्देश दिए हैं। अमरीकी मौसम विभाग के अधिकारियों ने तूफान के खतरों को कम न आंकने और सावधान रहने की चेतवानी जारी की है।

नेपाल ने दिया भारत को एक और झटका, चीन के साथ करेगा 12 दिवसीय सैन्य अभ्यास

हरीकेन फ्लोरेंस से दहशत

नेशनल हरीकेन सेंटर (एनएचसी) ने सोमवार दोपहर बताया कि तूफानी हवाओं की गति बीते 12 घंटे में 30 से 60 मील प्रतिघंटा हो गई। नेशनल हरीकेन सेंटर ने अपनी चेतावनी में बताया है कि हरीकेन की गति और बढ़ने की संभावना है। नॉर्थ कैरोलिना में सोमवार रात को छह से अधिक काउंटियों में, साउथ कैरोलिना की आठ काउंटी में लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के आदेश दिए गए। राष्ट्रीय तूफान केंद्र ने फ्लोरेंस के बारे में कहा,"अगले 36 घंटों के दौरान फ्लोरेंस पहले से और मजबूत होगा।गुरुवार तक इसके एक बेहद खतरनाक तूफान में तब्दील होने की उम्मीद है।"

बता दें कि फ्लोरेंस वर्तमान में लगभग 140 मील प्रति घंटे (220 किमी / घंटा) की हवाओं के साथ श्रेणी चार का तूफान है। अगर यह अपने वर्तमान ट्रैक पर चलता रहा तो इसके गुरुवार को देर रात उत्तरी कैरोलिना के विलमिंगटन के पास लैंडफॉल की भविष्यवाणी की गई है। इसके चलते दक्षिण कैरोलिना, उत्तरी कैरोलिना और वर्जीनिया में कई इलाकों से लोगों की अनिवार्य निकासी का आदेश दिया गया है। यह निकासी दस लाख से अधिक लोगों को प्रभावित करेगी।

तूफान ह्यूगो से की जा रही तुलना

हरीकेन फ्लोरेंस के कुछ साल पहले अमरीका में आये तूफान ह्यूगो से तुलना की जा रही है। बता दें कि ह्यूगो के प्रभाव से अमरीका में 7 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ था। इस तूफान में 49 लोगों की भी जान गई थी। फ्लोरेंस के प्रभाव से अमरीका के कई इलाकों में 20 इंच तक बारिश होने की आशंका जताई जा रही है। अमरीकन हरीकेन सेंटर ने कहा है कि तूफान का असर 100 किमी दूर से महसूस होगा।

कोलंबिया: दस मिनट में 12 मंजिली इमारत चढ़ा 'रूस का स्पाइडरमैन' , छत पर पहुंचते ही गिरफ्तार

ट्रंप ने घोषित की इमरजेंसी

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तूफान फ्लोरेंस के चेतावनियों की एक श्रृंखला जारी की है। ट्रंप ने ट्वीट किया कि "यह पिछले कई वर्षों में पूर्वी तट पर अटैक करने वाले सबसे बुरे तूफानों में से एक था"। राष्ट्रपति ट्रम्प ने कैरोलीना में आपातकाल की घोषणा के लिए अनुमोदन पर हस्ताक्षर किए हैं। उन्होंने प्रभावित राज्यों के गवर्नरों से बात भी की है।

More Videos

Web Title "USA in terror as Hurricane Florence approaches the Carolinas"