अगर ये बात सही है तो कल्याण सिंह के गढ़ में भाजपा को बड़ा खतरा

By: suchita mishra

Updated On: Apr, 19 2019 07:55 AM IST

  • प्रत्याशियों का भाग्य इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में बंद हो गया है। कोई नहीं जानता है कि किसे किसने वोट दिया है। इसके बाद भी सबके अपने-अपने अनुमान हैं।

अलीगढ़। लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 का दूसरा चरण समाप्त हो चुका है। प्रत्याशियों का भाग्य इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में बंद हो गया है। कोई नहीं जानता है कि किसे किसने वोट दिया है। इसके बाद भी सबके अपने-अपने अनुमान हैं। अलीगढ़ लोकसभा सीट के लिए यह चुनाव खास है। इसका कारण यह है कि अलीगढ़ में मुस्लिम मोहल्लों में एक पर्चा बांटा गया था। इसमें आह्वान किया गया था कि भाजपा को हराएं। जातिगत वोटों का आकड़ा देते हुए यह भी बता दिया था कि किसे कितने वोट मिलेंगे। पर्चा की बात मानें तो कल्याण सिंह के गढ़ में भारतीय जनता पार्टी के समने बड़ा खतरा है। कल्याण सिंह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं। इस समय राजस्थान के राज्यपाल हैं।

 

क्या है आकड़ा

13 अप्रैल को 34 मुस्लिम विद्वानों ने बैठक की। चुनाव से पूर्व समीक्षा की। यह बैठक सुल्तान हाउस, नूर बाग, दोधपुर, अलीगढ़ में हुई। इसमें तय किया गया कि किस पार्टी को वोट देना है। यह बैठक इसलिए बुलाई गई थी कि मुस्लिम किसे समर्थन करें। कांग्रेस प्रत्याशी की हार दिखाई दे रही थी, इसलिए गठबंधन प्रत्याशी को वोट देने का फैसला किया गया। इसी बैठक में बताया गया कि किस समुदाय के कितने वोटर हैं-

मतदाताओं की संख्या
मुस्लिम चार लाख

अनुसूचित जाति 2.50 लाख

जाट 1.75 लाख

यादव 1.25 लाख,

ब्राह्मण, वणिक, ठाकुर आदि 8.5 लाख

कुल वोटर 18 लाख

वोट पड़ेंगे 11.7 लाख

 

गठबंधन प्रत्याशी को वोट मिलेंगे

मुस्लिम 3.5 लाख

अनुसूचित जाति 2.2 लाख

जाट 1.2 लाख

यादव 1.2 लाख

ब्राह्मण, बनिया ठाकुर आदि 50 हजार

कुल 8.6 लाख

वोट पड़ेंगे 5.59 लाख

 

कांग्रेस प्रत्याशी को वोट मिलेंगे

मुस्लिम 40 हजार

अनुसूचित जाति 10 हजार

जाट 10 हजार

यादव 0

ब्राह्मण, बनिया ठाकुर आदि 1 लाख

कुल 1.6 लाख

वोट पड़ेंगे 1.04 लाख

 

भाजपा प्रत्याशी को वोट मिलेंगे

मुस्लिम 0

अनुसूचित जाति 10 हजार

जाट 35 हजार

यादव 0

ब्राह्मण, बनिया ठाकुर आदि 6 लाख

कुल 6.45 लाख

वोट पड़ेंगे 4.19 लाख

 

अन्य दलों के प्रत्याशी को वोट मिलेंगे

मुस्लिम 10 हजार

अनुसूचित जाति 10 हजार

जाट 10 हजार

यादव 5 हजार

ब्राह्मण, बनिया ठाकुर आदि 1 लाख

कुल 1.35 लाख

वोट पड़ेंगे 87,75

अलीगढ़ के प्रमुख प्रत्याशी
1.सतीश कुमार गौतम- भाजपा
2.अजीत बालियान- बसपा (गठबंधन)
3.चौधरी बृजेन्द्र सिंह- कांग्रेस

क्या कहते हैं भाजपा विधायक
वहीं इस बारे में भाजपा विधायक अनिल पाराशर ने बताया कि लोकसभा चुनाव में सभी जातिगत आकड़े ध्वस्त हो गए हैं। जनता ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को वोट दिया है, क्योंकि वही सबका विकास कर सकते हैं। मुस्लिमों ने भी हमें खूब वोट दिया है। चुनाव परिणाम आएंगे तो सबके अनुमान धरे रह जाएंगे। अलीगढ़ की जनता ने सतीश कुमार गौतम को एक बार फिर से सांसद बना दिया है। आधिकारिक घोषणा होनी बाकी है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

UP lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ा तरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News App

Published On:
Apr, 19 2019 07:55 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।