RPSC: मुख्य परीक्षा के लिए 1228 अभ्यर्थी सफल घोषित

By: raktim tiwari

Updated On:
02 Oct 2019, 08:22:40 AM IST

 
  • सहायक अभियंता यांत्रिकी/विद्युत में 911, सहायक अभियंता सिविल में 314 और पंचायती राज विभाग में तीन अभ्यर्थी शामिल हैं।

अजमेर.

राजस्थान लोक सेवा आयोग (rpsc ajmer) ने सहायक अभियन्ता (सिविल/विद्युत/यांत्रिकी) प्रतियोगी परीक्षा-2018 की प्रारम्भिक परीक्षा के तहत 1228 अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए सफल घोषित किया है।

read more: Ramlila : चतुर्भुजा अवतार के साथ राम सीता जन्म का हुआ मंचन

सचिव रेणु सचिव ने बताया कि सहायक अभियन्ता (assistant engineer) (सिविल/विद्युत/यांत्रिकी) भर्ती-2018 के तहत प्रारंभिक परीक्षा (prelims) परिणाम 18 जुलाई को जारी किया गया था। राजस्थान हाईकोर्ट की रिट याचिकाओं में पारित आदेशानुसार पूर्व घोषित परिणाम के क्रम में 1228 अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए विस्तारित परिणाम (provisional result) के तहत अस्थाई रूप से सफल घोषित किया गया है। इनमें सहायक अभियंता यांत्रिकी/विद्युत में 911, सहायक अभियंता सिविल में 314 और पंचायती राज विभाग में तीन अभ्यर्थी शामिल हैं। विस्तृत जानकारी आयोग की वेबसाइट से ली जा सकती है।

read more: ब्यावर के अमृतकौर चिकित्सालय में मरीजों को कतार में इंतजार से कब मिलेगी

सहायक अभियंता मुख्य परीक्षा 9 से
राजस्थान लोक सेवा आयोग के तत्वावधान में सहायक अभियन्ता (सिविल/विद्युत/यांत्रिकी/कृषि) संयुक्त प्रतियोगी (मुख्य) परीक्षा- 2018 का आयोजन 9 से 11 सिंतबर तक किया जाएगा। सचिव रेणु जयपाल ने बताया कि परीक्षा अजमेर जिला मुख्यालय (ajmer head quarter)पर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत यथावत कराई जाएगी।

read more: plastic mukt ajmer : अब इस्तेमाल होने लगे पत्ते के दोने और कागज की थैलियां

फुल कमीशन की बैठक में फैसला
प्रदेश भर के अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जनजाति अभ्यर्थियों ने राजस्थान लोक सेवा आयोग (rpsc ajmer)से सहायक अभियंता (सिविल/विद्युत/यांत्रिकी/कृषि) संयुक्त प्रतियोगी (मुख्य) परीक्षा-2018 की तिथि (exam date extension) बढ़ाने की मांग की थी। उधर हाईकोर्ट के आदेश पर आयोग फुल कमीशन (full commission meeting) की बैठक बुलाई। इसमें चर्चा के बाद परीक्षा को यथावत रखने का फैसला किया गया।

आयोग ने बीते साल 16 से 18 दिसंबर तक सहायक अभियंता भर्ती -2018 की प्रारंभिक परीक्षा कराई थी। इसका परिणाम (result) 18 जुलाई को जारी किया गया। इसके तहत परिणाम में अनुसूचित जनजाति (एसटी) और ओबीसी आरक्षित वर्गों के कट ऑफ माक्र्स सामान्य वर्ग से ऊपर चले गए। अभ्यर्थियों की याचिका पर हाईकोर्ट (rajasthan high court) ने अंतरिम आदेश देकर आरक्षित वर्ग (reserved category) के उन सभी अभ्यर्थियों जिनके कट ऑफ माक्र्स सामान्य से अधिक हैं, उन्हें प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण कर मुख्य परीक्षा में शामिल करने को कहा था।

read more: Accident-अंडरपास में भरा पानी, ट्रेक पार करते हुए ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत

Updated On:
02 Oct 2019, 08:22:40 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।