Murder mystery: पहले पत्नी को सुलाया और फिर खुद भी सो गया मौत की नींद,पढ़ें पूरी खबर

By: Preeti

|

Updated: 24 Aug 2019, 01:47 PM IST

Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

अजमेर. जयपुर रोड स्थित एक होटल(hotel) में शुक्रवार शाम वैवाहिक जीवन का दुखद अंत हो गया। पति ने पत्नी का गला घोटने के बाद जहर पिला दिया। फिर उसने खुद भी जहर पीकर जान देने का प्रयास किया। पत्नी की मौत हो गई, और पति की भी जवाहरलाल नेहरू अस्पताल(jlnh) में इलाज के दौरान मौत हो गई। सिविल लाइन थाना पुलिस प्रकरण की जांच में जुटी है।

पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि नागौर थांवला शिव मंदिर निवासी सुमित पुत्र धनराज शुक्रवार दोपहर डेढ़ बजे पत्नी राधिका के साथ जयपुर रोड स्थित होटल हंस पेराडिजो (Hotel Hans Paradizo) पहुंचा। यहां उन्होंने कमरा बुक किया। राधिका के परिजन भी उनको ट्रेस करते हुए शाम 5 बजे अजमेर पहुंचे। वे उन्हें ढूंढते हुए जयपुर रोड स्थित होटल पहुंचे, जहां होटल में राधिका व सुमित के ठहरने की तस्दीक के बाद कमरे में इंटरकॉम(Intercom) के जरिए फोन पर घंटियां बजाईं, लेकिन किसी ने फोन रिसीव नहीं किया। आखिर होटल मैनेजर ने परिजन के साथ पहुंचकर मास्टर-की से कमरा खोला। भीतर के हालात देखकर उनके होश उड़ गए। सूचना पर पहुंची सिविल लाइन थाना पुलिस ने एम्बुलेंस से उन्हें जेएलएन अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने राधिका को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने उसके परिजन की शिकायत पर मामला दर्ज किया है।

घटनास्थल से जुटाए साक्ष्य
इधर सूचना मिलने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर सरिता सिंह, पुलिस उप अधीक्षक प्रियंका, थानाप्रभारी नरेन्द्र कुमार पहुंचे। पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में मामला पहले गला-घोंट फिर उसको जहर पिलाने के बाद उसने भी जहर पीकर आत्महत्या कर ली। पुलिस एफएसएल और एमओबी की टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए हैं।

Read More: Rape in ajmer : युवती को अगवा कर किया बलात्कार

चार साल पहले विवाह
पुलिस की प्रारम्भिक पड़ताल में सामने आया कि सुमित का 2015 में पाली जैतारण निवासी सुरेन्द्र चन्द लखौटिया की बेटी राधिका से विवाह हुआ। पुलिस को कमरे से उनका मैरिज सर्टिफिकेट मिला है। शादी होने के बावजूद दोनों साथ नहीं रह रहे थे। राधिका शुक्रवार को सुमित से मिलने अजमेर आई। यहां बस स्टैंड (bus stand)पर मिलने के बाद दोनों जयपुर रोड स्थित होटल चले आए।

...मुझे बचाओ

पुलिस पड़ताल (Police investigation)में सामने आया कि राधिका के परिजन ने दोपहर में उसे कॉल (call) किए। काफी कॉल के बाद राधिका ने एक कॉल रिसीव किया, लेकिन उसकी सिफ... मुझे बचाओ की आवाज आने के बाद फोन कट गया। परिजन राधिका के फोन को टे्रक करते हुए शाम 5 बजे अजमेर पहुंचे। यहां पहचान तस्दीक कराने के बाद होटल का कमरा खोला गया तो दोनों अचेतावस्था में मिले।

Read More : जनाब को ऑन लाइन खाना मंगवाना पड़ा भारी - 380 के चिकन तंदूरी के फेर में गंवाए 85 हजार

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।