किन्नर की अनोखी प्रेम कहानी...

By: Mukesh Kumar Sharma

Published On:
Jul, 15 2017 05:07 AM IST

  • किन्नर एवं एक युवक की अनोखी प्रेम कहानी जूनागढ़ में देखने को मिली है। दोनों के बीच जूनागढ़ में शुरू हुआ प्रेम
जूनागढ़।किन्नर एवं एक युवक की अनोखी प्रेम कहानी जूनागढ़ में देखने को मिली है। दोनों के बीच जूनागढ़ में शुरू हुआ प्रेम हरिद्वार में शादी में परिवर्तित हो गया है।

चांदनी (नाम परिवर्तित) सहित पांच किन्नर जूनागढ़ में एक किराये के मकान में रहते थे। दूसरी ओर, राजमिस्त्री का काम करने वाले विमल (नाम परिवर्तित) भी निर्माणकार्य के चलते कभी-कभार उस क्षेत्र में जाता था। इस दौरान चांदनी व विमल के बीच प्रेम संबंध शुरू हो गया। पिछले दो वर्षों से जारी प्रेम संबंध के चलते दोनों को लगता था कि वह एक-दूसरे के बिना नहीं रह सकते हैं।

समय निकलता गया और उनके प्रेम संबंध गहरे होते गए। इस बीच छह-सात दिन पूर्व विमल के परिवार में किसी का निधन होने से विमल उनकी अस्थियों को विसर्जित करने के लिए हरिद्वार गए थे। बताया जाता है कि साथ में चांदनी व एक ब्राह्मण को भी ले गए थे।

अस्थि विसर्जन विधि के बाद दोनों ने हरिद्वार में गंगा नदी के किनारे पर विवाह कर लिया। फिलहाल युगल हरिद्वार में ही है।

Published On:
Jul, 15 2017 05:07 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।