BE seats vacant in Gujarat: बीई के पहले चरण में २९ हजार से ज्यादा को प्रवेश, ३५ हजार से अधिक सीटें रिक्त

By: nagendra singh rathore

Published On:
Jun, 26 2019 10:08 PM IST

  • १७ कॉलेजों की सभी सीटों पर विद्यार्थियों को प्रवेश, ३७ कॉलेजों की 10 फीसदी से भी कम सीटें भरीं

अहमदाबाद. गुजरात में डिग्री इंजीनियरिंग (बी.ई.) की १३८ कॉलेजों में उपलब्ध ७5 हजार से अधिक सीटों में से प्रबंधन कोटे की सीटों को छोड़कर ६५ हजार १२१ सीटों पर व्यावसायिक पाठ्यक्रम प्रवेश समिति (एसीपीसी) की ओर से बुधवार को प्रवेश आवंटित किए गए। पहले चरण के प्रवेश आवंटन के बाद की स्थिति में 35 हजार 460 सीटें रिक्त रह गई हैं। इस तरह ५४ फीसदी सीटें अभी भी खाली हैं।
१३८ कॉलेजों में से सिर्फ १७ कॉलेज की ही शत प्रतिशत सीटें भर पाईं हैं, जबकि ३७ कॉलेज ऐसे हैं, जिन्हें उनकी सीटों की क्षमता के १० फीसदी भी विद्यार्थी नहीं मिले।
एसीपीसी के सदस्य सचिव डॉ. जी.पी.वडोदरिया ने बताया कि इस वर्ष ३३ हजार २७१ विद्यार्थियों को फाइनल मेरिट लिस्ट में जगह दी गई है। इनमें से ३१ हजार ४३६ विद्यार्थियों ने पहले चरण की चॉइस फिलिंग (कॉलेज और कोर्स चयन) प्रक्रिया में भाग लिया। विद्यार्थियों की पसंद और उनकी मेरिट को ध्यान में रखते हुए बुधवार को पहले चरण के प्रवेश में २९ हजार ७५२ विद्यार्थियों को प्रवेश आवंटित किए गए हैं। कुल मिलाकर देखा जाए तो पहले चरण के प्रवेश आवंटन के बाद की स्थिति में ४६ प्रतिशत सीटों पर ही प्रवेश दिया गया।
मेरिट लिस्ट में पहले स्थान पर रहने वाले विद्यार्थी ने धीरूभाई अंबानी इंस्टीट्यूट ऑफ इन्र्फोमेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलोजी (डीएआईआईसीटीई)- गांधीनगर में बीटेक (ऑनर्स इन आईसीटी विथ सीएस) कोर्स में प्रवेश आवंटित किया गया है।

सरकारी-अनुदानित कॉलेज की २१८४ सीटें खाली

पहले चरण में सरकारी और अनुदानित कॉलेज में उपलब्ध बीई की १३४७९ सीटों में से २१८४ सीटें खाली रह गईं। पहले चरण में ११२९५ सीटों पर प्रवेश आवंटित किया गया।

निजी कॉलेजों में ३३ हजार सीटें रही रिक्त

पहले चरण में निजी इंजीनियरिंग कॉलेज में उपलब्ध बीई की ५१७३३ सीटों में से १८४५७ सीटों पर प्रवेश दिया गया। जिससे ३३ हजार २७६ सीटें खाली रह गईं।

Published On:
Jun, 26 2019 10:08 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।