> > > North Korea may again be in the list of Terrorism Sponsor Countries

उ. कोरिया फिर से हो सकता है आतंकवाद प्रायोजक देशों की सूची में

2017-04-20 19:42:57


उ. कोरिया फिर से हो सकता है आतंकवाद प्रायोजक देशों की सूची में
वॉशिंगटन। अमरीकी सरकार उत्तर कोरिया को फिर से आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले देशों की सूची में डालने पर विचार कर रही है, जिससे उसे 2008 में हटा दिया गया था। अमरीकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा, हम उत्तर कोरिया को आतंकवाद प्रायोजक देशों की सूची में डालने के साथ ही अन्य तरीकों पर पुनर्विचार कर रहे हैं, जिससे उस पर फिर से हमारे साथ बातचीत का दबाव बनाया जा सके।

टिलरसन ने कहा कि किम जोंग उन के प्रशासन के साथ बातचीत के इरादे के बावजूद ट्रंप प्रशासन की इच्छा इस बार अलग स्तर की बातचीत करने की है। अमरीका ने 2008 में राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश के शासनकाल में उत्तर कोरिया को आतंकवाद प्रायोजक देशों की सूची से हटा दिया था, जिसमें ईरान, सीरिया और सूडान शामिल हैं।

उत्तर कोरिया ने तब अपने योंगब्योन परमाणु ऊर्जा संयंत्र को नष्ट करने का वादा किया था, लेकिन 2009 में उसने एक रॉकेट का प्रक्षेपण ऐसी प्रौद्योगिकी के साथ किया था जिसमें लंबी दूरी की मिसाइल दागने की क्षमता थी। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उसकी कड़ी आलोचना की गई थी और साथ ही उसे कूटनीतिक रूप से अलग-थलग कर दिया गया।

डोनाल्ड ट्रंप के जनवरी में सत्ता में आने के बाद से उत्तर कोरिया मिसाइल प्रक्षेपण कर उकसाने की अपनी पुरानी रणनीति पर लौट आया है। इसके मद्देनजर अमरीका ने चीन से उत्तर कोरिया को फिर से बातचीत के लिए राजी करने का आग्रह किया है। अमरीका ने उत्तर कोरिया की गतिविधियों के जवाब में सैन्य कार्रवाई की संभावना से भी इनकार नहीं किया है।
मीटिंग में ठीक से नहीं बैठने पर तानाशाह किम जोंग ने मंत्री को मरवाया
प्योंगयेंग। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन का एक और क्रूर किस्सा सामने आया है। किम जोंग उन ने एक वरिष्ठ मंत्री को मीटिंग के दौरान ठीक से ना बैठने पर अपने अग्निशमक दल के हाथों मरवा दिया। उत्तर कोरिया के शिक्षा मंत्री किम योंग-जिन को संसद में खराब तरीके से बैठना तानाशाह को बर्दाशत नहीं हुआ। ये मंत्री संसंद में कंधे झुकाकर बैठा पाया गया।

किम जोंग के सामने गलत तरीके से बैठ गया मंत्री
दक्षिण कोरिया के अधिकारी ने बताया कि जुलाई में इस मंत्री की फांसी से पहले एक क्रांतिकारी विरोधी आंदोलन हुआ। दक्षिण कोरिया के प्रवक्ता जियोंग जुन ही ने बताया कि शिक्षा के उप प्रधानमंत्री को तानाशाह को मरवा दिया गया। किम योंग जिन की गलती बस इतनी सी थी कि वो संसद में रोस्ट्रम से नीचे झुककर बैठा था। इस बैठक में किम जोंग उन भी बैठा था। जब उसके सामने किम योंग अपनी कुर्सी पर गलत तरीके से बैठा तो वो क्रोधित हो गया।

दक्षिण कोरियाई अखबार का दावा मंत्री को तानाशाह ने मरवाया
दक्षिण कोरिया के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि मंत्री का ये खराब बैठने का तरीका 29 जून को हुई बैठक में देखा गया था। इस बैठक में किम जोंग उन को नए राष्ट्रीय सुरक्षा विभाग के अध्यक्ष के रूप में चुना गया था। इस बैठक के बाद एक जांच में उस पर क्रांतिकारी विरोधी और फायरिंग दस्ते के निष्पादन का आरोप भी लगाया गया। दक्षिणी कोरिया के अखबारों ने दावा किया कि किम योंग को दो उत्तर कोरियाई अधिकारियों ने अपनी एंटी-एयरक्राफ्ट बंदूक से मार डाला। तानाशाह को लेकर इससे पहले भी ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। शिक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकरी री योंग जिन को मीटिंग में सो जाने पर किम जोंग उन ने मरवा दिया था।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

Related News

ट्रंप की जीत के बाद अमेरिका में बढ़े घृणा अपराध: विशेषज्ञ

बढ़ रहा है ट्रंप परिवार की सुरक्षा में लगी खुफिया सेवा का खर्च

उत्तर कोरिया ने शक्ति प्रदर्शन कर US को दी परमाणु युद्ध की चेतावनी

LIVE CRICKET SCORE

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

X