> > > British man dies in bath while charging iphone

नहाते हुए आईफोन चार्ज करने से लगे झटके से ब्रिटिश की मौत

2017-03-20 23:27:47


नहाते हुए आईफोन चार्ज करने से लगे झटके से ब्रिटिश की मौत
लंदन। एक ब्रिटिश नागरिक की नहाने के दौरान आईफोन चार्ज करने के दौरान लगे बिजली के झटके से मौत हो गई। घटना की न्यायिक जांच में कहा गया है कि यह दुर्घटनावश हुआ है। रिचर्ड बुल (32) को उसकी पत्नी तान्या ने पिछले साल 11 दिसंबर को बाथरूम में मृत पाया था। कोरोनर सीन कमिंग्स के मुताबिक, बुल की मौत आईफोन के दुर्घटनावश पानी में गिरने के कारण हुई।

कमिंग्स ने बताया गया, ये गैरहानिकारक उपकरण प्रतीत होते हैं, लेकिन वे उतने ही खतरनाक हो सकते हैं, जितना कोई हेयरड्रायर बाथरूम में हो सकता है। इनके साथ चेतावनी भी जुड़ी होनी चाहिए। यह एक दुखद दुर्घटना थी और यह पूरी तरह से आकस्मिक दुर्घटना थी। कमिंग्स ने कहा कि उनका इरादा फोन निर्माता एप्पल को भी एक रपट भेजने का है, ताकि वे संभावित खतरों के प्रति अपने ग्राहकों को आगाह कर सकें।

द रॉयस सोसाइटी फॉर प्रिवेंसन ऑफ एक्सिडेंट्स की जनस्वास्थ्य सलाहकार शीला मेरिल का कहना है, अगर किसी उपकरण को बिजली के मेन स्विच से जोड़ते हैं तो आपको खतरों के प्रति सतर्क रहना चाहिए। इसमें आपकी जान जाने का भी खतरा है। खासतौर से बिजली और पानी को एक साथ संपर्क में नहीं लाना चाहिए। लेकिन फोन के मामलों में खासतौर से लोग इसका ध्यान नहीं रखते हैं। जब फोन चार्ज करने के लिए प्लग से जुड़ा हो तो उसके इस्तेमाल की सलाह नहीं दी जाती है, खासतौर से बाथरूम जैसी जगहों में।

बैटरी प्रॉब्लम से जूझ रहे यूजर्स को फ्री में नया फोन देगी ये कंपनी!
नई दिल्ली। एपल कंपनी ने फ्री बैटरी रिप्लेसमेंट और फोन बदलने का ऐलान किया है। ऐसे में बैटरी प्रॉब्लम से जूझ रहे आईफोन यूजर्स के लिए यह बड़ी खुशखबरी है। पिछले महीने बहुत से लोगों ने यह सूचना दी थी कि उनका आईफोन 6 एस अचानक बैटरी होने के बावजूद भी बंद हो जाता है। ऐसी ढेर सारी शिकायतों के बाद एपल कंपनी ने फोन शटडाउन की प्रॉब्लम फेस करने वाले यूजर के फोन रिप्लेस करने की बात कही है।

बैटरी में ही है गड़बड़
एपल ने एक चाइनीज वेवसाइट पर इस बारे में एक स्टेटमेंट दिया है। कंपनी के अनुसार आईफोन 6 एस के कुछ फोन्स में ऐसी प्रॉब्लम्स आ रही थी। कंपनी का यह भी कहना है कि ये समस्याएं आईओएस नहीं बल्कि हार्डवेयर रिलेटेड थी। इससे पहले यह कहा जा रहा था कि ये समस्या ऑपरेटिंग सिस्टम में आए बग की वजह से हो रही है।

इस वजह से आई बैटरी में खामी
कंपनी का कहना है कि सितंबर और अक्टूबर 2015 में बने आईफोन में बैटरीज खुली रहने की वजह से वो एयर के संपर्क में आ गई थी। इसी के चलते बैटरी प्रॉब्लम्स इन फोन्स में आ गई। अपने स्टेटमेंट में एपल ने यह भी कहा कि एपल सिक्योरिटी फीचर्स का खास खयाल रखता है। आईफोन 6एस के अलावा भी अन्य मॉडल्स में बैटरी इश्यूज है, तो यूजर अपना सीरियल नंबर बताकर आईफोन ऑफिशियल आउटलेट से फ्री बैटरी रिप्लेसमेंट करवा सकते हैं।

अगले साल आएगा आईफोन 8
गौरतलब है कि एपल ने अपने लॉन्च के तौर पर आईफोन 7 और 7क्कद्यह्वह्य को लॉन्च किया है। इन दोनों ही हैंडसेट्स को यूएस, चीन और भारत समेत दुनिया कई देशों में बेचा जा रहा है। खबरें हैं कि एपल अब साल 2017 में अपना आईफोन 8 लॉन्च करेगी। इसके बारे में अटकलें हैं आईफोन 8 बैजल लैस होगा यानी डिस्पले के चारों और बॉर्डर नहीं होगी। इसके अलावा यह हैंडसेट एपल आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम के नए वर्जन के साथ जाएगा।

LIVE CRICKET SCORE

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

X