> > > >Everyday pain to give the railway gate

हर दिन दर्द दे रहा रेलवे फाटक

2016-04-27 22:50:45


हर दिन दर्द दे रहा रेलवे फाटक
नीमकाथाना. पारा चालीस डिग्री के करीब और लू के थपेड़ो की मार। ऐसे में एक मिनट भी खुले आसमा तले खड़ा रहना मुश्किल होता है, लेकिन रेलवे फाटक दिन में कई बार बंद होने से शहर के वाशिंदों को प्रति दिन हर आधा तेज गर्मी में खड़ा रहना पड़ रहा है। ऐसा ही मामला मंगलवार दोपहर मावंडा निवासी बुजुर्ग शांति देवी(70) को सांस की गंभीर समस्या होने पर राजकीय अस्पताल से रेफर करने पर एंबुलेंस से जयपुर ले जाते सामने आया।

करीब दो बजे फाटक बंद होने से एंबुलेंस फाटक पर फंसी रही। फाटक बंद होने से करीब 20 मिनट तक महिला एंबुलेंस में ही तड़पती रही। यह स्थिति लम्बे समय से है लेकिन इसके बावजूद भी व्यवस्था सुधरने का नाम ही नहीं ले रही है। साथ ही रेल ओवरब्रिज निर्माण कार्य भी आमजन के लिए मुसीबत बन रहा है। प्रशासन की ओर से यहां से निकलने वाले वाहनों के लिए कोई वैकल्पिक रास्ता नहीं तय किए जाने से फाटक बंद होने पर जाम की स्थिति बनी रहती है।

निकलने से मुंह मोड़ रहे है लोग
फाटक दिन में बार- बार बंद व टै्रफिक जाम की समस्या के चलते शहर के लोग अब परेशानी से बचने के लिए फाटक की तरफ से निकलने से मुंह मोड़ रहे हैं।

LIVE CRICKET SCORE

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

X