> > > >Bundelkhand Development Authority will be establish, MLA from Bundelkhand will be member.

अभी उदास है बुंदेलखंड, जल्दी ही खिलखिलाएगा

2017-03-20 13:30:49


अभी उदास है बुंदेलखंड, जल्दी ही खिलखिलाएगा


कानपुर . मानसून की बेवफाई से बुंदेलखंड में खेत-खलिहान मुरझाए दिखते हैं। प्यास से व्याकुल खेतों में झुर्रियों की मानिंद दरारें किसानों को आत्महत्या करने के लिए उकसाती हैं। इसी बुंदेलखंड में भाजपा की राजनीति भी बंजर थी, जीत का सूखा पड़ा था। मोदी मैजिक से ऐसा कमाल हुआ कि बुंदेलखंड भी भगवा राजनीति लहराने लगी। इलाके की सभी 19 सीटों पर कमल ही खिल गया। ऐसे में तमाम उम्मीदे थीं, जोकि गुजरे रविवार को मुरझाती दिखीं। योगी सरकार में बुंदेलखंड से सिर्फ दो चेहरों को शामिल किया गया। एक विधायक और एक कद्दावर नेता, जिन्होंने चुनाव ही नहीं लड़ा था। यह उदासी चंद दिन की है, जल्द ही राजनीति के आंगन में बुंदेलखंड चहकता दिखेगा।


बुंदेलखंड विकास प्रााधिकरण बनाएंगे योगी


बुंदेलखंड की बदहाली दूर करने के लिए तय किया गया था कि बुंदेलखंड विकास प्राधिकरण बनाएंगे। केंद्र सरकार के सुझाव पर अमल करते हुए मध्यप्रदेश ने अपने हिस्से के बुंदेलखंड के लिए विकास प्राधिकरण का गठन तो वर्ष 2007 में कर लिया, लेकिन यूपी की अखिलेश सरकार ने सिर्फ कैबिनेट में मसौदा पारित कराने के बाद मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। अब योगी सरकार ने तय किया है कि जल्द ही बुंदेलखंड विकास प्राधिकरण बनाया जाएगा। सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा के मुताबिक बुंदेलखंड विकास प्राधिकरण और केंद्र सरकार के बुंदेलखंड स्पेशल पैकेज को मर्ज करने के साथ ही समूचे बुंदेलखंड के समग्र विकास के लिए योजना बनाई जाएगी।


बुंदेलखंड के नेता संभालेंगे प्राधिकरण


सूत्रों के मुताबिक योगी ने बुंदेलखंड के सभी विधायकों एवं वहां से नाता रखने वाले अन्य नेताओं से इलाकाई समस्याओं और संभावित समाधान के बारे में विस्तृत रिपोर्ट एक पखवारे में मांगी है। सभी रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद बुंदेलखंड की समस्याओं पर फोकस करती रिपोर्ट बनाकर केंद्र सरकार से चर्चा होगी। कोशिश होगी एक और राहत पैकेज हासिल करने की। बहरहाल, योगी ने तय किया है कि बुंदेलखंड के विकास की जिम्मेदारी स्थानीय नेताओं को सौंपी जाएगी, कारण यहकि उन्हें समस्याओं के बारे में ज्यादा बेहतर जानकारी है। इसके अतिरिक्त जनता के लिए जवाबदेही स्थानीय विधायकों की अधिक है।


चौधरी और रविकांत की उम्मीद ज्यादा


बुंदेलखंड विकास प्राधिकरण में यूं तो क्षेत्र के सभी 19 विधायकों की भागीदारी होगी, लेकिन अध्यक्ष पद के लिए चित्रकूट की मानिकपुर सीट से जीते आर.के.सिंह पटेल और झांसी सदर से चुने गए रविकांत शर्मा के नाम सबसे आगे हैं। प्राधिकरण में राठ की विधायक मनीषा अनुरागी तथा बांदा के विधायक प्रकाश द्विवेदी को भी अहम जिम्मेदारी मिलना तय है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं,भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Hot News

छोटी छोटी यह बचतें भी आपको कर देंगी मालामाल छोटी छोटी यह बचतें भी आपको कर देंगी मालामाल
भारत में Pokemon Go खेलना चाहते हैं, इन तीन Clicks में होगा इंस्टॉल भारत में Pokemon Go खेलना चाहते हैं, इन तीन Clicks में होगा इंस्टॉल
सपना व्यास पटेल: वायरल फोटो से फेमस हो गई थी ये फिटनेस ट्रेनर सपना व्यास पटेल: वायरल फोटो से फेमस हो गई थी ये फिटनेस ट्रेनर
सात वचन: अरेंज्ड मैरिज में लड़के गलती से भी न पूछें लड़की से ये सात सवाल सात वचन: अरेंज्ड मैरिज में लड़के गलती से भी न पूछें लड़की से ये सात सवाल
जिंदगी भर सिर्फ 3 साडिय़ों में रहने वाली मदर टेरेसा को इन चमत्कारों ने बना दिया संत जिंदगी भर सिर्फ 3 साडिय़ों में रहने वाली मदर टेरेसा को इन चमत्कारों ने बना दिया संत

More From Kanpur

सीएम योगी के एक्शन का दिखा असर, कानपुर के एसएसपी ने लगाई झाड़ू सीएम योगी के एक्शन का दिखा असर, कानपुर के एसएसपी ने लगाई झाड़ू

<img src=http://img.patrika.com/upload/icons/video.png alt=Video Icon title=Video Icon valign=middle width=16 height=16 /> कानपुर में चलाया गया एंटी चीयर्स ऑपरेशन, 150 से ज्यादा गिरफ्तार Video कानपुर में चलाया गया एंटी चीयर्स ऑपरेशन, 150 से ज्यादा गिरफ्तार

लेबर मूवमेंट का गढ़ था कानपुर, स्वदेशी मिल परिसर में 13 मजदूर दफ्न! लेबर मूवमेंट का गढ़ था कानपुर, स्वदेशी मिल परिसर में 13 मजदूर दफ्न!

NIA ने की ताबतोड़ छापेमारी, यहां से उठाए कई संदिग्ध NIA ने की ताबतोड़ छापेमारी, यहां से उठाए कई संदिग्ध

लोगों का लंबा इंतजार हुआ खत्म, योगी के मंत्री ने कर दिया बड़ा एलान! लोगों का लंबा इंतजार हुआ खत्म, योगी के मंत्री ने कर दिया बड़ा एलान!

शहीद-ए-आजम से शहीद-ए-भगत सिंह तक...ऐसे राज जो आपने पहले कभी नहीं पढ़े होंगे! शहीद-ए-आजम से शहीद-ए-भगत सिंह तक...ऐसे राज जो आपने पहले कभी नहीं पढ़े होंगे!

अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद को मिलकर सुलझाएं पक्षकार: राज्यपाल अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद को मिलकर सुलझाएं पक्षकार: राज्यपाल

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

X