> > > >Life imprisonment for two

दो को आजीवन कारावास

2017-04-20 23:43:39


दो को आजीवन कारावास


कटनी. बड़वारा थाना के सकरीगढ़ में वर्ष 2014 में जमीन विवाद पर एक युवक की हत्या करने व साक्ष्य छिपाने के लिए उसका शव महानदी में फेंकने के मामले में दो आरोपियों को सत्र न्यायाधीश राधा सोनकर की अदालत ने आजीवन कारावास व अर्थदंड से दंडित किया है।
मामले के संबंध में अपर लोक अभियोजक रजनीश सोनी ने बताया कि 19 जुलाई 2014 को संकरीगढ़ निवासी बाल्मीकी पिता विश्राम कोरी (24) सल्हना स्टेशन से सकरीगढ़ आते समय गायब हो गया था। जिसपर पुलिस ने गुम इंसान दर्ज कर मामला की जांच शुरू की। शाम को महानदी पुल के पास एक युवक का शव मिला और उसकी शिनाख्त बालमीकी के रूप में की गई। जांच में पुलिस ने संदेह के आधार पर किशोरीलाल कोरी व संजय कोरी को पकड़ा और उनसे पूछताछ की। दोनों का जमीन विवाद बालमीकी के परिवार से था। आरोपियों ने डंडा मारकर उसकी हत्या की थी। पुलिस ने मामले को न्यायालय में पेश किया। जहां पर सत्र न्यायाधीश ने विवेचना, साक्ष्य और बयान के आधार पर किशोरी व संजय को दोषी पाया। न्यायाधीश ने धारा 302 का दोषी मानते हुए आरोपियों को आजीवन कारावास व 30-30 हजार रुपये का जुर्माना और धारा 201 का दोष सिद्ध होने पर 2-2 साल की सश्रम कारावास व 5-5 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया। अर्थदंड न जमा करने पर हत्या के मामले में 3-3 माह व साक्ष्य छिपाने के मामले में एक-एक माह की अतिरिक्त सजा दिए जाने की सजा सुनाई गई।

Related News

जज ने ऐसा क्यों कहा... शिक्षक का कृत्य किसी भी तरह से माफ नहीं किया जा सकता है

जिला न्यायालय में सुनाए अहम फैसले 

जमीन विवाद को लेकर वृद्ध के साथ मारपीट

LIVE CRICKET SCORE

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

X