> > > >PIL against Krishnas son-in-law

कृष्णा के दामाद के खिलाफ जनहित याचिका

2017-03-20 22:18:11


कृष्णा के दामाद के खिलाफ जनहित याचिका
हुब्बली।समाज परिवर्तन समुदाय के प्रमुख एसआर हिरेमठ ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री एसएम कृष्णा के दामाद वीजी सिध्दार्थ की ओर से भूमि अतिक्रमण करने के मामले के संबंध में राज्य उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर की गई है।

शहर के पत्रकार भवन में रविवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में हिरेमठ ने कहा कि चिक्कमगलूरु जिले के कोप्प तालुक में 180 एकड़ वन भूमि पर अतिक्रमण किया गया है। इस मामले में दोषी वीजी सिध्दार्थ तथा एसएम कृष्णा पर कार्रवाई करनी चाहिए।

हिरेमठ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त एसएम कृष्णा को भारतीय जनता पार्टी में शामिल नहीं किया जाए। भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन कर रहे संगठनों को इस बारे में ज्ञापन सौंपना चाहिए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं,भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Hot News

छोटी छोटी यह बचतें भी आपको कर देंगी मालामाल छोटी छोटी यह बचतें भी आपको कर देंगी मालामाल
भारत में Pokemon Go खेलना चाहते हैं, इन तीन Clicks में होगा इंस्टॉल भारत में Pokemon Go खेलना चाहते हैं, इन तीन Clicks में होगा इंस्टॉल
सपना व्यास पटेल: वायरल फोटो से फेमस हो गई थी ये फिटनेस ट्रेनर सपना व्यास पटेल: वायरल फोटो से फेमस हो गई थी ये फिटनेस ट्रेनर
सात वचन: अरेंज्ड मैरिज में लड़के गलती से भी न पूछें लड़की से ये सात सवाल सात वचन: अरेंज्ड मैरिज में लड़के गलती से भी न पूछें लड़की से ये सात सवाल
जिंदगी भर सिर्फ 3 साडिय़ों में रहने वाली मदर टेरेसा को इन चमत्कारों ने बना दिया संत जिंदगी भर सिर्फ 3 साडिय़ों में रहने वाली मदर टेरेसा को इन चमत्कारों ने बना दिया संत

More From Bangalore

हर वार्ड में बनेंगे खाद खरीदी केंद्र हर वार्ड में बनेंगे खाद खरीदी केंद्र

कोरम का अभाव, मंत्री नदारद कोरम का अभाव, मंत्री नदारद

मई से बंद हो सकते हैं बिजली कटौती के झटके मई से बंद हो सकते हैं बिजली कटौती के झटके

बीईएमएल बनाएगी नम्मा मेट्रो के 150 कोच बीईएमएल बनाएगी नम्मा मेट्रो के 150 कोच

सफाई कर्मचारियों को बासी भोजन सफाई कर्मचारियों को बासी भोजन

पूर्व सांसद एम. शिवण्णा भाजपा में शामिल पूर्व सांसद एम. शिवण्णा भाजपा में शामिल

शिक्षण संस्थाओं में यौन अपराधों के खिलाफ कड़ा कानून शिक्षण संस्थाओं में यौन अपराधों के खिलाफ कड़ा कानून

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

X