> > > >Remedies for getting rid of pyarias

पायरिया: हर व्यक्ति मुंह में होते हैं 700 तरह के बेक्टीरिया, इन घरेलू टिप्स में छिपा है इनका इलाज

2017-03-20 20:14:58


पायरिया: हर व्यक्ति मुंह में होते हैं 700 तरह के बेक्टीरिया, इन घरेलू टिप्स में छिपा है इनका इलाज
जबलपुर। दांतों का दुश्मन है पायरिया और यह बीमारी अधिकांश लोगों में पाई जाती है। पायरिया दांतों की एक गंभीर बीमारी होती है जो दांतों के आसपास की मांसपेशियों को संक्रमित करके उन्हें हानि पहुंचाती है। यह बीमारी स्वास्थ्य से जुड़े अनेक कारणों से होती है, और सिर्फ दांतों से जुड़ी समस्याओं तक सीमित नहीं होतीं। यह बीमारी दांतों और मसूड़ों पर निर्मित हो रहे जीवाणुओं के कारण होती है। दांतों की साफ-सफाई में कमी होने से जो बीमारी सबसे जल्दी होती है वो है पायरिया। सांसों की बदबू, मसूड़ों में खून और दूसरी तरह की कई परेशानियां। हम आपको इस बीमारी से मुक्ति पाने के उपाय बता रहे हैं।

पायरिया के लक्षण और कारण
नियमित आहार और दांतों की रक्षा में रुक्षांस की कमी या पूर्ण रूप से अभाव, दांतों में खान पान के कण अटकना और दांतों का सडऩा, दांतों पर अत्यधिक मैल जमना, मुंह से दुर्गन्ध का निकलना और मुंह में अरुचिकर स्वाद का निर्माण होना, जीवाणुओं का पसरण, मसूड़ों में जलन का एहसास होना और छालों का निर्माण होना, जरा सा छूने पर भी मसूड़ों से रक्तािव होना इत्यादि पायरिया के लक्षण होते हैं। असल में मुंह में 700 किस्म के बैक्टीरिया होते हैं। इनकी संख्या करोड़ों में होती है। अगर समय पर मुंह, दांत और जीभ की साफ-सफाई नहीं की जाए तो ये बैक्टीरिया दांतों और मसूड़ों को नुकसान पहुंचाते हैं। पायरिया होने पर दांतों को सपोर्ट करने वाले जॉ बोन को नुकसान पहुंचता है।

यह है पायरिया उपचार
1. नीम के पत्ते साफ कर सुखा लें। उन्हें जला दें और बर्तन को तुरंत ढंक दें। पत्ते जलकर काले हो जाएं तो इसकी राख कपडे में छान लें। इसे सेंधा नमक पीसकर तीन-चार बार मंजन कर कुल्ले कर लें।
2. चुटकी भर सादा नमक चुटकी भर हल्दी में चार पांच बुंद सरसों का तेल मिला कर उंगली से दांतों पर लगाकर 20 मिनट तक रखें लार आवे तो थुकते रहें।
3. अपने दांत नीम के दातुन से साफ करें।
4. कच्चे अमरुद पर थोडा सा नमक लगाकर खाने से भी पायरिया के उपचार में सहायता मिलती है।
5. घी में कपूर मिलाकर दांतों पर मलने से भी पायरिया मिटाने में सहायता मिलती है।
6. काली मिर्च के चूरे में थोडा सा नमक मिलाकर दांतों पर मलने से भी पायरिया के रोग से छुटकारा पाने के लिए काफी मदद मिलती है।
07. आंवला जलाकर सरसों के तेल में मिलाएं, इसे मसूड़ों पर धीरे-धीरे मलें।
08. खस, इलायची और लौंग का तेल मिलाकर मसूड़ों में लगाएं।
09. जीरा, सेंधा नमक, हरड़, दालचीनी, दक्षिणी सुपारी को समान मात्रा में लें, इसे बंद बर्तंन में जलाकर पीस लें, इस मंजन का नियमित प्रयोग करें।
10. अनार के छिलके पानी मे डाल कर खूब खौला कर ठंडा कर लें। इस पानी से दिन मे तीन चार बार कुल्ले करें।
11. गरम पानी मे एक चुटकी नमक मिला कर रोज सुबह शाम कुल्ले करने से दांत की तकलीफ में आराम मिलता है।
12. बादाम के छिलके तथा फिटकरी को भूनकर फिर इनको पीसकर एक साथ मिलाकर एक शीशी में भर दीजिए। इस मंजन को दांतों पर रोजाना मलने से पायरिया रोग जल्दी ही ठीक हो जाता है।
13. पायरिया होने पर कपूर का टुकड़ा पान में रखकर खूब चबाने और लार एवं रस को बाहर निकालने से पायरिया रोग खत्म होता है।
14. 5 से 6 बूंद गर्म पानी में लौंग का तेल 1 गिलास गर्म पानी में मिलाकर प्रतिदिन गरारे व कुल्ला करने से पायरिया रोग नष्ट होता है।
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

Related News

वजन होगा कम, दिल रहेगा हेल्दी, इमली खाने से मिलेंगे अनेक फायदे

पैरों को खूबसूरत बनाने के लिए शिल्पा शेट्टी ने बताए योगासन, देखें वीडियो

'पंचकर्म' से सुधर रही युवाओं की सेहत, हर रोज यहां पहुंचते हैं सैकड़ों मरीज

LIVE CRICKET SCORE

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

अम्मा के लिए रो रहा है तमिलनाडु का हर 'बच्चा'

अम्मा के लिए रो रहा है तमिलनाडु का हर 'बच्चा'

X