> > Two slouter house closed in Allahabad

योगी के सीएम बनते ही इलाहाबाद में दो बूचड़खाने सील, मीट कारोबारियों में दहशत

2017-03-20 18:00:48


योगी के सीएम बनते ही इलाहाबाद में दो बूचड़खाने सील, मीट कारोबारियों में दहशत
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद भाजपा के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कामकाज संभाल लिया। योगी के मुख्यमंत्री बनते ही सोमवार को इलाहाबाद नगर निगम ने दो बूचड़खानों को सील करवा दिया है। गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और खुद योगी आदित्यनाथ ने चुनाव प्रचार के दौरान लगातार इस मुद्दे को उठाया था। भाजपा ने यह ऐलान किया था कि वह सरकार बनने के बाद उत्तर प्रदेश में सभी अवैध व यांत्रिक बूचड़खाने को बंद करवाएगी।



बूचड़खानों के संचालकों में दहशत
योगी आदित्यनाथ के सत्ता संभालते ही अवैधरुप से बूचड़खानों का संचालन करने वालों में दहशत फैल गई है। हालात को देखते हुए कई कसाइयों ने काम करने से मना कर दिया है। शाहजहांपुर जिले में मीट का कारोबार करने वाले लोगों में हड़कंप मचा हुआ है। खबर ये भी है कि कसाइयों द्वारा नई रणनीति बनाई जा रही है।
कसाइयों ने काम करने से इनकार
प्रशासन के मुताबिक शाहजहांपुर में लगभग 500 वैध-अवैध बूचड़ खाने चल रहे हैं। जिनमें हर रोज हजारों की तादात में बीमार पशु और गंभीर बीमारियों से जूझते हुए जानवरों को काट दिया जाता है। यहां यह भी बताना बेहद जरूरी है कि शाहजहांपुर से बड़ी मात्रा में जानवरों का मांस निर्यात किया जाता है। उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद बूचड़खानों के संचालकों और उनमें काम करने वाले कसाइयों की धड़कनें तेज हो गई है। सूत्रों की माने के मुताबिक सोमवार को शाहजहांपुर में बूचड़खानों में काम करने वाले बड़ी तादाद में कसाइयों ने काम करने से इनकार कर दिया।
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

LIVE CRICKET SCORE

पत्रिका एंड्राइड और आई फ़ोन एप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

X